फोटोग्राफी बिजनेस कैसे शुरू करें। Photography Business Plan in Hindi.

आज के समय में हमारे देश के प्रत्येक क्षेत्र के हर एक स्थानीय बाजार में कोई न कोई Photography Business करने वाला उद्यमी विद्यमान है । वह इसलिए क्योंकि लोगों को आज भी उनकी सेवा की आवश्यकता पड़ती है। वैसे देखा जाय तो लोगों की जो अपनी फोटो खींचाने को लेकर उत्सुकता थी वो  पहले उन्हें उस एरिया नमे स्थित नजदीकी फोटो स्टूडियो तक खींच ले आती थी। लेकिन आज उनकी यही उत्सुकता उनके मोबाइल फ़ोन में उपलब्ध कैमरे के माध्यम से शांत हो जाती है।

यही कारण है की अनेक लोगों का मानना है की मोबाइल फ़ोन में के साथ आने वाली क्वालिटी कैमरों के कारण फोटो स्टूडियो नामक इस तरह के बिजनेस में नकारात्मक असर पड़ा है।  जो की पूरी तरह से सत्य नहीं है मोबाइल फ़ोन के कैमरों के माध्यम से लोग अपनी व्यक्तिगत फोटो खींचने की पिपासा को तो शांत कर सकते हैं। लेकिन प्रोफेशनल फोटोज खींचाने के लिए आज भी Photography Business करने वाले फोटोग्राफर को बुलाया जाता है।

चूँकि आज का युग इन्टरनेट का युग है और इस इन्टरनेट ने फोटोग्राफी एवं इस तरह के बिजनेस में संलिप्त उद्यमियों की कार्यशैली को सहज एवं आसान बनाया है। और चूँकि आज लोगों के पास अपनी फोटो को प्रकाशित करने या लोगों तक पहुँचाने के अनेकों प्लेटफॉर्म उपलब्ध हैं इसलिए लोग चाहते हैं की उनकी फोटो की क्वालिटी बेहतरीन हो। इसके लिए वे प्रोफेशनल फोटोग्राफर को ही फोटो खींचने के लिए आमंत्रित करते हैं।

इसलिए आज हम हमारे इस लेख के माध्यम से फोटोग्राफी व्यापार के बारे में विस्तृत तौर पर जानकारी देने का प्रयत्न कर रहे हैं। इस बिजनेस को बेहद कम निवेश के साथ ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में कहीं से भी शुरू किया जा सकता है इसलिए यदि उद्यमी को रचनात्मकता में महारत हासिल हो। तो Photography Business उद्यमी के लिए कमाई करने का एक बेहतरीन विकल्प के तौर पर उभरकर सामने आ सकता है।

photography business plan in hindi

भारत में फोटोग्राफी व्यापार में संभावनाएं

Photography Business में दौलत, इज्जत, शौहरत इत्यादि जिसके लिए हर कोई मानव अपने जीवन में कभी फुर्सत के क्षणों को में नहीं रहता और हमेशा दौड़ा भागी करता रहता है। कमाने के भरपूर अवसर विद्यमान हैं। क्योंकि मीडिया से लेकर फिल्म इंडस्ट्री तक में अच्छे फोटोग्राफर, विडियोग्राफर को काम आसानी से मिल जाता है। इसके अलावा चूँकि इस तरह के इस बिजनेस में उद्यमी को घुमने फिरने का भरपूर अवसर मिलता है इसलिए यह भारत में युवाओं की पसंद में से भी एक व्यापार है।

जहाँ तक भारत में इसकी संभावनाओं की बात है तो एक आंकड़े के मुताबिक यहाँ केवल शादी फोटोग्राफी का व्यापार ही वर्ष भर में एक लाख करोड़ से अधिक का बताया जा रहा है। इसके अलावा व्यक्तिगत फोटोग्राफी, किसी आयोजन के अवसर पर की जाने वाली फोटोग्राफी, आईडी कार्ड इत्यादि बनाने के लिए स्कूल एवं कम्पनियों द्वारा अपने विद्यार्थी एवं कर्मचारियों की जाने वाली फोटोग्राफी इत्यादि इस आंकड़े में शामिल नहीं है।

वैसे देखा जाय तो किसी औद्योगिक शहर या महानगर में Photography Business करने वाले उद्यमी के पास कमाई के विकल्प अधिक हैं तो वहां पर प्रतिस्पर्धा भी बहुत अधिक है । जबकि ग्रामीण इलाकों में कमाई के साधन सीमित तो हैं लेकिन इसमें अधिकतर स्थानीय ग्राहक उसी फोटोग्राफर के पास जाना पसंद करते हैं जो उनके नज़दीक हो। डिजिटल फोटोग्राफी ने इस क्षेत्र में एक नई क्रांति को जन्म दिया है और इस क्रांति से हमारी देश की युवा पीढ़ी अछूती नहीं रह सकी है।

और इसी के चलते इस क्षेत्र में कुछ प्रतिभाशाली उद्यमी उभरकर सामने आये हैं जो अपने इस व्यवसाय को अगले स्तर पर ले जाने के लिए हमेशा ही तैयार रहते हैं। लेकिन ऐसे जुनूनी उद्यमियों की संख्या कुछ ही है इसलिए इस क्षेत्र में नए उद्यमियों के लिए भी अवसर विद्यमान हैं। यद्यपि जहाँ पहले फोटोग्राफी व्यापार करने वाले उद्यमी अपने ग्राहकों का इंतजार अपने स्टूडियो में बैठकर किया करते थे। और उनके लिए उस स्थानीय क्षेत्र के अलावा अन्य स्थानों में अपनी सर्विस देना लगभग असंभव था।

लेकिन वर्तमान में उद्यमी चाहे तो अपने बिजनेस की ऑनलाइन उपस्थिति बनाकर विभिन्न आयोजनों एवं घटनाओं में अपने क्षेत्र से दुसरे क्षेत्र, शहर से दुसरे शहर, यहाँ तक की अपने देश से विदेश में तक फोटोग्राफी करने की उम्मीद कर सकता है। क्योंकि वर्तमान में लोग ब्रांड प्रमोशन, गेट टू गेदर, कम्पनी एनिवर्सरी, बर्थ डे, शादी की सालगिरह, धार्मिक संस्कार, मॉडलिंग इत्यादि के लिए फोटोग्राफी एवं वीडियोग्राफी करना पसंद करते हैं।

फोटोग्राफी बिजनेस कैसे शुरू करें (How to start Photography Business)

भारत में Photography Business शुरू करना बेहद ही सरल एवं सहज कार्य इसलिए हो जाता है क्योंकि इसे बेहद कम निवेश के साथ तो शुरू किया ही जा सकता है। इसके अलावा इस तरह का यह व्यापार करने के लिए किसी तरह के विशेष कौशल की भी आवश्यकता नहीं होती है। यदि व्यक्ति को बेसिक कंप्यूटर की जानकारी एवं थोड़ा बहुत कैमरा सँभालने की कला आती हो तो वह इस तरह के इस बिजनेस को आसानी से शुरू कर सकता है। लेकिन जब हम इस बिजनेस को शुरू करने की प्रक्रिया की बात करते हैं तो अक्सर लोगों को लगता है की वे कैमरा, लाइटिंग उपकरण, प्रिंटर, कंप्यूटर खरीदकर, स्थानीय बाजार में दुकान किराये पर ले लें।

तो इस तरह के बिजनेस को शुरू करने के लिए इतना ही काफी है लेकिन यह सत्य नहीं है यदि आप Photography Business में लम्बी पारी खेलकर अपने इस व्यवसाय को अगले स्तर तक ले जाना चाहते हैं तो सिर्फ इतना ही काफी नहीं है की दुकान किराये पर लेकर कैमरा एवं अन्य उपकरण इंस्टाल कर दिए। बल्कि उद्यमी को उचित तरीके से व्यापार की योजना एवं टारगेट ग्राहकों का विश्लेषण करने की आवश्यकता होती है। तो आइये आगे हम इस प्रक्रिया को सिलसिलेवार तरीके से जानने की कोशिश करते हैं।

1. आवश्यक जगह का प्रबंध करें

उद्यमी को चाहिए की वह उस एरिया में स्थित किसी स्थानीय बाजार में कोई दुकान किराये पर ले। भीड़ भाड़ एवं ऐसी जगह जहाँ से प्रतिदिन सैकड़ों हजारों लोग चहलकदमी करते हुए निकलते हों इस तरह के बिजनेस के लिए एक आदर्श लोकेशन हो सकती है। उद्यमी जब अपनी Photography Business के लिए दुकान का चयन कर रहा हो तो उसे इस बात का विशेष ध्यान रखना होगा की एक फोटोग्राफी स्टूडियो के लिए कम से कम 18 फीट लम्बे एवं बारह फीट चौड़ी जगह की आवश्यकता हो सकती है।

क्योंकि बाद में उद्यमी को इस जगह को दो हिस्सों में बांटने की आवश्यकता होती है। एक हिस्सा स्टूडियो का होता है तो दूसरा हिस्सा ऑफिस का जहाँ पर फोटो प्रिंटिंग, एडिटिंग इत्यादि कार्यों को निष्पादित किया जाता है। इसके अलावा ग्राहकों के बैठने के लिए भी सोफा, बेंच इत्यादि की आवश्यकता हो सकती है। कहने का आशय यह है की उद्यमी को इस बात का ध्यान रखना चाहिए की सम्बंधित व्यवसायिक गतिविधियों को निष्पादित करने के लिए जगह की कमी नहीं होनी चाहिए।  

2. बिजनेस की योजना बनायें (Create Photography Business Plan)

यद्यपि हमारे देश भारतवर्ष में छोटे मोटे व्यापारों के लिए विशेषकर ऐसे व्यापार जिन्हें गली मोहल्ले वाले व्यापार कहा जाता है। के लिए बिजनेस योजना बनाने का प्रचलन नहीं है यही कारण है की अधिकतर ऐसे व्यापार या तो असफल हो जाते हैं या फिर इनका विकास रुक जाता है। इसलिए उद्यमी को चाहिए की वह Photography Business के लिए एक प्रभावी बिजनेस प्लान अवश्य बनाये। भले ही उसे ऋण या निवेशकों के लिए इसकी आवश्यकता हो या नहीं हो।

एक अच्छे एवं प्रभावी बिजनेस प्लान में व्यापार से सम्बंधित सभी बातों का लिखित रूप में विवरण होता है। इसमें अनुमानित लागत, अनुमानित कमाई, बिजनेस मॉडल, व्यापारिक रणनीति, व्यापारिक लक्ष्य सभी तत्वों का समावेश होता है। चूँकि इसमें बिजनेस के लक्ष्यों एवं उन तक पहुँचने की सम्पूर्ण रणनीति का उल्लेख होता है इसलिए यदि भविष्य में इसके अनुरूप परिणाम न आ रहे हों।

तो उद्यमी द्वारा इसमें समय एवं हालात को आधार मानकर बदलाव भी किये जा सकते हैं। इसके अलावा बिजनेस की योजना बनाकर छोटी मोटी गतिविधियों जैसे काम के घंटों का निर्धारण, व्यक्तिगत एवं व्यवसायिक जीवन के दायित्वों की पूर्ति, उपलब्ध संसाधनों का आकलन, सफलता मापने के मापक तय करना, मार्केटिंग की रणनीति बनाना, टारगेट ग्राहकों की पहचान इत्यादि को निष्पादित किया जा सकता है।        

3. स्थानीय नियम एवं कानून चेक करें

Photography Business एक ऐसा व्यवसाय है जिसमें न तो अधिक मैनपावर की आवश्यकता होती है और न ही इसे शुरू करने के लिए बहुत अधिक निवेश की आवश्यकता होती है। इसके अलावा इस तरह का यह बिजनेस किसी प्रकार का कोई प्रदूषण भी उत्पन्न नहीं करता है यही कारण है पड़ोसियों इत्यादि को भी इससे कोई परेशानी नहीं होती है। इसलिए इसे उद्यमी प्रोप्राइटरशिप के तौर पर आसानी से शुरू कर सकता है हालांकि इस तरह के व्यवसायों के लिए किसी प्रकार के रजिस्ट्रेशन को अनिवार्य तो नहीं किया गया है।

लेकिन इन सबके बावजूद उद्यमी को स्थानीय नियमों एवं कानूनों के बारे में जानकारी प्राप्त कर लेना ही बेहतर है की कहीं उसे किसी प्रकार के लाइसेंस एवं रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता तो इस बिजनेस को करने के लिए नहीं है। हो सकता है की उद्यमी को स्थानीय प्राधिकरण जैसे नगर निगम, नगर पालिका इत्यादि से ट्रेड लाइसेंस प्राप्त करने की आवश्यकता हो।     

4. स्टूडियो की फर्निशिंग

जैसा की हम उपर्युक्त वाक्यों में पहले भी बता चुके हैं की Photography Business के लिए उद्यमी को उचित जगह की आवश्यकता होती है । और इससे भी महत्वपूर्ण यह है की उद्यमी अपने स्टूडियो की फर्निशिंग किस डिजाईन के आधार पर करता है। उद्यमी चाहे तो डिजाईन इत्यादि के लिए किसी इंटीरियर डिज़ाइनर जिसे इस तरह के फोटो स्टूडियो डिजाईन करने का अनुभव हो से डिजाईन बनवा सकता है।

और उसी हिसाब से फर्निशिंग करा सकता है क्योंकि ऐसा नहीं होना चाहिए की कोई एक ग्रुप आपके स्टूडियो में फोटो खींचवाने आया और उसके लिए वहां जगह ही नहीं हो पाई। इसलिए उद्यमी को फर्निशिंग कराते समय डार्क रूम, लाइटिंग, ग्राहकों के बैठने का स्थान, ऑफिस इत्यादि सभी का ध्यान रखना परम आवश्यक है।   

5. आवश्यक उपकरण खरीदें (Purchase Equipment for Photography Business)

उद्यमी को एक बात गाँठ बाँध लेनी चाहिए की Photography Business लोगों की फोटो और विडियो लेने से जुड़ा हुआ बिजनेस है और ध्यान रहे की मनुष्य कोई कितना भी शक्ल सूरत में कम हो। लेकिन वह अपने लिए स्पेशल अवश्य होता है और वह चाहता है की उसकी फोटो या फिर विडियो भी साफ़ रंग एवं सुन्दर आये। इसलिए यदि उद्यमी को फोटोशॉप इत्यादि में एडिटिंग करके बेकार फोटो को भी अच्छी एवं सुन्दर फोटो बनाने में महारत हासिल है तो हो सकता है की उद्यमी के पास एक दिन इतने ग्राहक हो जाएँ की उसे मजबूरन अपने स्टूडियो में कर्मचारियों की संख्या बढ़ानी पड़ जाय।

सिर्फ एडिटिंग के भरोसे ही ग्राहकों का विश्वास जीतने की उम्मीद नहीं की जा सकती बल्कि इस बिजनेस में काम आने वाला सबसे महत्वपूर्ण उपकरण कैमरा है। अर्थात यदि कैमरा अच्छा हो और उद्यमी को सही एंगल में फोटो खींचने की कला आती हो तो हो सकता है की उस फोटो को एडिटिंग करने की आवश्यकता ही न हो। यद्यपि प्रोफेशनल कैमरे पचास हज़ार से तीन लाख रूपये तक की कीमत में बाजार में उपलब्ध हैं लेकिन उद्यमी को अपनी आवश्यकता एवं बजट के अनुरूप ही कैमरे का चुनाव करना चाहिए। Photography Business में इस्तेमाल में लाये जाने वाले कुछ प्रमुख उपकरणों की लिस्ट निम्नवत है।

  • कैमरा एवं लेंस।
  • लाइटिंग के लिए इलेक्ट्रॉनिक फ्लश इत्यादि।
  • कैमरा स्टैंड।
  • बैकग्राउंड के लिए परदे या पेपर।
  • ऑफिस फर्नीचर ।
  • कंप्यूटर/प्रिंटर/सॉफ्टवेर ।

यद्यपि उपर्युक्त दी गई लिस्ट उद्यमी के बिजनेस के आकार एवं उसके द्वारा अपने ग्राहकों को दी जाने वाली सर्विसेज के आधार पर अंतरित हो सकती है । जैसे कुछ फोटो स्टूडियो में Photography Business करने वाले उद्यमी ग्राहकों को आधार कार्ड इत्यादि में लेमिनेशन करने की फैसिलिटी भी देते हैं तो ऐसे में लेमिनेशन मशीन की भी आवश्यकता हो सकती है।

6. मार्केटिंग करें कमाई करें

Photography Business करने वाले उद्यमी ने बिजनेस प्लान बनाते वक्त अपने संभावित ग्राहकों की पहचान की होगी। अब समय आ गया है की उद्यमी उन संभावित ग्राहकों के बीच अपने व्यापार की मार्केटिंग करे ताकि वे उसकी कमाई का जरिया बन सकें। उद्यमी के संभावित ग्राहक के तजुर पर वैसे तो सभी लोग होते हैं लेकिन ऐसे लोग जिनके घर में शादी हो, जन्मदिन सालगिरह इत्यादि की पार्टी हो, या फिर ऐसे लोग जो साल में एक बार कुछ न कुछ बड़ा आयोजन करते हों, कोई धार्मिक अनुष्ठान इत्यादि करने की सोच रहा हो।

ये सभी उद्यमी के संभावित ग्राहकों में होंगे। इनके बीच मार्केटिंग करने के लिए उद्यमी पम्पलेट, ब्राऊचर, डिस्काउंट ऑफर इत्यादि का इस्तेमाल कर सकता है। इसके अलावा Photography Business करने वाले उद्यमी को उस एरिया में स्थित वेडिंग प्लानर, टेंट हाउस ओनर, विवाह कराने वाली एजेंसी, एरिया में प्रसिद्ध पंडित इत्यादि से संपर्क एवं जान पहचान बनाये रखनी बेहद जरुरी है। क्योंकि ये वे लोग हैं जिनकी विभिन्न आयोजनों में नितांत आवश्यकता होती है इसलिए यह उद्यमी को भी काम दिलाने में सहायक हो सकते हैं।

यह लेख भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *