कील बनाने का उद्योग कैसे शुरू करें? Wire Nails Manufacturing Business.

कील यानिकी Wire Nails से तो शायद आप सभी अच्छी तरह से अवगत होंगे क्योंकि आये दिनों विभिन्न स्थानों जैसे घर, ऑफिस एवं अन्य कार्यस्थलों पर हम इनका इस्तेमाल दैनिक जीवन में करते रहते हैं। जी हाँ दोस्तों लोहे की कील एक ऐसा उपकरण जिसका इस्तेमाल छोटे छोटे कार्यों को निष्पादित करने के लिए घरों और बिल्डिंगों में तो किया ही जाता है। इसके अलावा भवन निर्माण कार्यों, फर्नीचर निर्माण कार्यों, पैकिंग इत्यादि के लिए बनाये जाने वाले बक्सों में भी इनका इस्तेमाल बड़े पैमाने पर किया जाता है। यही कारण है की जनसँख्या वृद्धि के साथ लोगों के लिए नए भवनों का निर्माण इत्यादि के चलते इनकी आवश्यकता मार्किट में हमेशा बनी रहती है। इन सबके अलावा Wire Nails Manufacturing Business शुरू करने का फायदा यह है की बाजार में लोहे की कील खरीदते समय ग्राहकों द्वारा किसी ब्रांड इत्यादि का चयन नहीं किया जाता है बल्कि जिस भी कंपनी या ब्रांड की लोहे की कील दुकानदार के पास मौजूद रहती हैं ग्राहक उसी को खरीद लेता है। इसलिए उद्यमी चाहे तो जिला स्तर पर या फिर तहसील स्तर की मांग को ध्यान में रखकर भी कील बनाने का उद्योग शुरू कर सकता है। स्थानीय स्तर पर भी यदि किसी उद्यमी द्वारा उचित मापदण्डों को ध्यान में रखकर उच्च गुणवत्ता की कील बनाने का कार्य किया जाता है तो वह उद्यमी Wire Nails Manufacturing Business में सफलता की राह पर आगे बढ़ सकते हैं। जहाँ तक मार्केटिंग का सवाल है उद्यमी उस एरिया या क्षेत्र विशेष में उपलब्ध हार्डवेयर स्टोरों से और भवन निर्माण से सम्बंधित सामान रखने वाली दुकानों से संपर्क कर सकता है। तो आइये जानते हैं की कोई इच्छुक व्यक्ति खुद का कील बनाने का उद्योग कैसे शुरू कर सकता है।

Wire nails manufacturing business hindi

कील बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें? (How to Start Wire Nails Manufacturing Business):  

Wire Nails Manufacturing यानिकी कील बनाने का उद्योग शुरू करने से पहले उद्यमी को अपने टारगेट क्षेत्र में इस उत्पाद की मांग का विश्लेषण करना अत्यंत आवश्यक है। क्योंकि शुरूआती दौर में उद्यमी को अपने उत्पाद को स्थानीय एरिया में बेचकर ही लाभ प्राप्त करने का प्रयत्न करना चाहिए। वैसे देखा जाय तो भवन निर्माण एवं अन्य कंस्ट्रक्शन सम्बन्धी कार्य लगभग हर क्षेत्र में वर्ष भर चलते रहते हैं इसलिए उद्यमी को अपना टारगेट क्षेत्र निश्चित करने की आवश्यकता हो सकती है। तो आइये आगे हम इस व्यवसाय को शुरू करने के स्टेप बाई स्टेप प्रक्रिया के बारे में बात करते हैं।

1. स्थानीय रिसर्च करें  

ऐसे इच्छुक उद्यमी जो खुद का कील बनाने का उद्योग शुरू करने के बारे में विचार कर रहे हों उन्हें सबसे पहले जिस एरिया में वह यह इकाई स्थापित करने की सोच रहे हैं वहां पर इस उत्पाद की मांग का जायजा अवश्य लें। और Wire Nails Manufacturing Business शुरू करने के इच्छुक उद्यमी को इस बात का भी निर्णय लेना होगा की वह उस क्षेत्र के कितने किलोमीटर तक के एरिया को कवर करने की क्षमता रखता है। चूँकि शुरूआती दौर में उद्यमी के पास बजट की कमी होती है इसलिए वह देश के बड़े बड़े बाज़ारों तक अपने उत्पाद को शायद ही पहुंचा पाए, इसलिए शुरूआती दौर में यही उचित रहेगा की वह स्थानीय स्तर पर उत्पाद को बेचने के आधार पर ही कोई मार्केटिंग योजना बनाये। यद्यपि उद्यमी के लिए स्वयं की इकाई द्वारा उत्पादित लोहे की कील को स्थानीय बाजार में बेच पाना उतना अधिक चुनौतीपूर्ण इसलिए नहीं रहने वाला है क्योंकि लोग जब कील की खरीदारी करते हैं तो वह किसी ब्रांड का ध्यान बिलकुल नहीं रखते । इसलिए उड़ एरिया में मांग का जायजा लेने के लिए उद्यमी उस एरिया विशेष में उपलब्ध हार्डवेयर स्टोरों और भवन निर्माण सम्बन्धी सामान बेचने वाले अन्य दुकानदारों से संपर्क करके इस बात की जानकारी ले सकता है की वे उस एरिया में कितनी कीलें बेच देते हैं। ध्यान रहे जब स्थानीय स्तर पर इस उत्पाद की मांग होगी तभी उद्यमी Wire Nails Manufacturing Business को लाभकारी व्यवसाय में परिवर्तित कर पाने में सक्षम हो पायेगा।    

2. जमीन और बिल्डिंग का प्रबंध (Land & Building for Wire Nails Manufacturing):

हालांकि कील बनाने के उद्योग के लिए कितनी जमीन की आवश्यकता होगी वह इस बात पर निर्भर करेगा की उद्यमी के प्लांट की उत्पादन क्षमता क्या रहने वाली है। जहाँ तक एक छोटे स्तर पर Wire Nails Manufacturing Business शुरू करने की बात है इसके लिए उद्यमी को बेहद भरी भरकम मशीन की आवश्यकता तो होती नहीं है की जिन्हें इनस्टॉल करने के लिए उद्यमी को बहुत बड़ी जगह की आवश्यकता हो। इसलिए यदि सभी प्रकार के कार्यो जैसे वर्कशॉप यानिकी विनिर्माण स्थल, बिजली उपयोगिताओं के लिए जगह, जनरेटर सेट इत्यादि के लिए जगह और एक छोटे से ऑफिस को स्थापित करने के लिए जगह को मिलाकर उद्यमी को 600-800 Square Feet जगह की आवश्यकता हो सकती है। और ध्यान रहे इसमें यह भी जरुरी नहीं है की उद्यमी द्वारा स्थापित इकाई किसी भीड़ भाड़ वाली जगह या स्थानीय बाजार में ही होनी चाहिए। बल्कि उद्यमी चाहे तो अपनी इकाई को ऐसी किसी भी जगह पर शुरू कर सकता है जहाँ बिजली, पानी, सड़क और कर्मचारियों की आसानी से उपलब्धता हो जाती हो।   

3. आवश्यक लाइसेंस और पंजीकरण

उद्यमी को Wire Nails Manufacturing  व्यवसाय शुरू करने के लिए शायद ही किसी लाइसेंस और पंजीकरण की अनिवार्यता होगी लेकिन यदि उद्यमी चाहता है तो वह निम्नलिखित लाइसेंस और पंजीकरण के लिए आवेदन कर सकता है।  

  • उद्यमी को अपने व्यवसाय को वैधानिक स्वरूप प्रदान करने के लिए प्रोप्राइटरशिप के तौर पर रजिस्टर करने की जरुरत हो सकती है।
  • बिलिंग और इनवॉइस जनरेट करने के लिए जीएसटी रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता हो सकती है।
  • स्थानीय प्राधिकरण जैसे नगर निगम, नगर पालिका इत्यादि से ट्रेड लाइसेंस लेने की आवश्यकता हो सकती है ।

जैसा की हम सब जानते हैं सरकारी परियोजनाओं के तहत भी भवन निर्माण इत्यादि का कार्य बड़े पैमाने पर होता है इसलिए यदि उद्यमी एमएसएमई सेक्टर के लिए आरक्षित खरीद योजना का लाभ लेना चाहता है तो उसे अपने व्यवसाय को उद्योग आधार और एमएसएमई डाटा बैंक के तहत भी रजिस्टर कराने की आवश्यकता हो सकती है । यह दोनों कार्य Wire Nails Manufacturing Business शुरू करने वाला उद्यमी घर बैठे ऑनलाइन भी कर सकता है ।    

4. मशीनरी और कच्चे माल की खरीदारी

यद्यपि इस व्यवसाय को इस्तेमाल में लायी जाने वाली मशीनरी एवं उपकरणों की लिस्ट इकाई की उत्पादन क्षमता के आधार पर अंतरित भी हो सकती है। लेकिन एक औसतन स्तर पर Wire Nails Manufacturing Business शुरू करने के लिए निम्नलिखित मशीनरी और उपकरण इस्तेमाल में लाये जा सकते हैं।

  • 3 HP मोटर के साथ वायर नेल मेकिंग मशीन
  • ड्रम/ पॉलिशिंग बैरल
  • स्पूल/ वायर स्टैंड
  • ग्राइंडर और कटर
  • अन्य उपकरण और हैण्ड टूल्स

इस व्यवसाय में इस्तेमाल में लाये जाने वाले प्रमुख कच्चे माल की लिस्ट इस प्रकार से है।

  • 20-9 गेज की माइल्ड स्टील वायर
  • पैकेजिंग सामग्री  

मशीनरी और कच्चे माल की खरीदारी के अलावा उद्यमी को अपना Wire Nails Manufacturing Business सफलतापूर्वक चलाने के लिए प्रशिक्षित और कुशल कर्मचारियों की भी आवश्यकता हो सकती है। इसमें मशीन ऑपरेटर के अलावा कुछ हेल्पर जो सामग्री को एक स्थान से दुसरे स्थान पर जाने ले जाने में मदद करेंगे उन्हें भी नियुक्त करने की आवश्यकता हो सकती है। इसके अलावा ऑफिस कार्यों के लिए कुशल, शिक्षित और अनुभवी कर्मचारी नियुक्त करने की आवश्यकता हो सकती है।   

5. कील बनाने की प्रक्रिया शुरू करना (Start Process of Wire nails Manufacturing):

Wire Nails Manufacturing शुरू करने के लिए दो प्रकार की मशीनों की आवश्यकता होती है इसमें पहली क्रैंक टाइप और दूसरी स्प्रिंग टाइप मशीन शामिल हैं। इन्हें बेहद कम मेंटेनेंस की आवश्यकता होती है और ये स्वचालित होती हैं। लोहे की कील बनाने के लिए कोल्ड ड्रान ब्राइट वायर का इस्तेमाल किया जाता है यह तार विभिन्न गेज में 20 गेज से लेकर 65 गेज तक मार्किट में उपलब्ध है। इस तरह की ये तारें बंडलों में आती हैं और तार के इस बण्डल को टूल स्टैंड में फिक्स किया जाता और तार का एक छोर तार को सीधे करने वाले रोलर में डाला जाता है जो आटोमेटिक ही मशीन तक पहुँचता रहता है। तार को आगे खींचने के लिए मशीन में रोलर के बाद एक ग्रिप बनी होती है यह ग्रिप केवल उतने ही तार को आगे की तरफ खींचती है जितनी वायर की आवश्यकता एक कील बनाने के लिए होती है। कील के हेड को बनाने के लिए इसे मोल्ड रेम में डाला जाता है क्रैंक शॉट के माध्यम से इसका निर्माण किया जाता है। तार का अग्र हिस्सा हेड बनाने वाले सांचे से लगे पंच से जोर से टकराता है जिससे अगला सिरा और तार की कटिंग आटोमेटिक हो जाती है। यहाँ पर Wire Nails Manufacturing Process में मोल्ड प्रेस द्वारा तार को दबाया जाता है जिससे कील द्वविभाजित होकर तार से कटकर अलग हो जाती है। इस प्रक्रिया में हो सकता है की कील का कुछ हिस्सा अभी भी तार से जुड़ा हुआ हो जिसे आटोमेटिक ट्रिगर अलग कर देता है। उसके बाद जब लोहे की कील बनकर मशीन से बाहर आती हैं तो इनके ऊपर आयरन और ग्रीज लुब्रिकेंट डाला जाता है और इन्हें पॉलिशिंग ड्रम में पॉलिश के लिए भेजा जाता है। और जब पॉलिश का कार्य पूर्ण हो जाता है तो इनकी पैकिंग करके इन्हें बाजार में बेचने के लिए भेज दिया जाता है।

अन्य लेख भी पढ़ें

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *