भारत में ऑनलाइन बिजनेस कैसे शुरू करें |

यदि आप भी भारत में खुद का ऑनलाइन बिजनेस  शुरू करने का विचार कर रहे हैं, तो यह विचार आपके सम्पूर्ण जीवन को बदलने वाला हो सकता है । क्योंकि व्यवसायों के बारे में कहा गया है की, जो व्यवसाय इन्टरनेट पर नहीं हैं समझ लो वे व्यापार से ही बाहर हैं। यद्यपि यदि आप अपना ऑनलाइन बिजनेस शुरू करना चाहते हैं, तो हो सकता है की आप अपने ग्राहकों को कोई सर्विस देना चाहते हों। लेकिन यदि आप कोई प्रोडक्ट पर आधारित ऑनलाइन बिजनेस की बात कर रहे हैं, तो इसका मतलब यह है की, आप ई कॉमर्स बिजनेस की बात कर रहे हैं।

वर्तमान में भारत में भी कई वर्षों से स्थापित दुकानें भी चाह रही हैं की, उनका व्यवसाय इन्टरनेट पर मौजूद हो, इसलिए वे एक ऑनलाइन सेगमेंट की तलाश कर रहे हैं। क्योंकि अनुमान यह लगाया जाता है की, कोई भी व्यक्ति इन्टरनेट पर अपने व्यवसाय को उपलब्ध कराकर अपनी बिक्री में 20% तक की वृद्धि आसानी से कर सकता है। जबकि कुछ समय के बाद प्रयास करते रहने और समर्पण के चलते उद्यमी अपनी बिक्री को 40% तक बढ़ा सकता है।

वर्तमान में भारत में भी ऑनलाइन बिजनेस इसलिए जरुरी हो गया है क्योंकि आने वाले कुछ दशकों में लगभग सभी व्यापारिक उत्पादों की बिक्री, लेनदेन इत्यादि ऑनलाइन हो जाएगा। क्योंकि ऑनलाइन खरीदारी को लोगों द्वारा भारत में भी काफी पसंद किया जाता रहा है। यह ऑनलाइन बिजनेस की ही शक्ति है की, फ्लिप्कार्ट ने केवल 10 घंटे में $100 मिलियन बिक्री होने की घोषणा की थी।

कहा यह जा रहा ही की भारत की अर्थव्यवस्था में यदि अगली कोई लहर आएगी तो वह ई कॉमर्स इंडस्ट्री यानिकी ऑनलाइन बिजनेस आधारित इंडस्ट्री की ही होगी। इसलिए यदि आप भी चाहते हैं की आप भविष्य में असीमित मुनाफा कमाएँ तो यह समय भारत में खुद का ई कॉमर्स बिजनेस शुरू करने का सुनहरा अवसर है।

ऑनलाइन बिजनेस कैसे शुरू करें

ऑनलाइन बिजनेस क्या है  

एक ऑनलाइन बिजनेस वह व्यापार है जो पूरी तरह से इन्टरनेट पर संचालित होता है। ऑनलाइन व्यापार में उत्पादों एवं सेवाओं की बिक्री इन्टरनेट के माध्यम से ही होती है। ई कॉमर्स बिजनेस इसका सबसे बढ़िया एवं अच्छा उदाहरण है।   

आपके बिजनेस को ऑनलाइन होने की क्यों आवश्यकता है

यदि आप पहले से कोई बिजनेस कर रहे हैं, लेकिन अभी तक आपने उसे ऑनलाइन उपलब्ध नहीं कराया है। तो आने वाले समय में यह आपके व्यवसाय के लिए काफी नुकसानदायक साबित हो सकता है। चूँकि वर्तमान में ई कॉमर्स का चलन बढ़ता जा रहा है इसलिए सबसे पहला कारण यही है की आपको अपने मौजूदा व्यवसाय को ऑनलाइन उपलब्ध कराना चाहिए।

एक विश्वसनीय आंकड़े के मुताबिक वर्ष 2040 तक लगभग 95% उपभोक्ता अपनी 95% तक की खरीदारी ऑनलाइन ही करेंगे। इसलिए यदि आप अभी से खुद का Online Business नहीं शुरू करेंगे, तो भविष्य में आप प्रतिस्पर्धा की दौड़ से बाहर हो जायेंगे। वर्तमान में दुनिया भर में डिजिटल खरीदारों की संख्या दो अरब से भी अधिक हो गई है। जो लगातार तीव्र गति से बढती जा रही है।

जब आपके व्यवसाय को ऑनलाइन उपस्थिति होती है तो ग्राहकों का इस पर विश्वास बढ़ता है, ग्राहक जिस कंपनी से आसानी से संपर्क कर सकते हैं, उससे बड़ी जल्दी जुड़ते हैं। वर्तमान में ग्राहक अपनी किसी भी शिकायत और फीडबैक के लिए कम्पनियों के सोशल मीडिया पेज एवं वेबसाइट का इस्तेमाल करते हैं। और ऐसे उपयोगकर्ताओं की संख्या निरंतर बढती जा रही है।

यदि आप खुद के बिजनेस को ऑनलाइन बिजनेस में परिवर्तित करते हैं , तो आपको अपने ग्राहकों के साथ मजबूत और लम्बे समय तक चलने वाले सम्बन्ध बनाने में मदद मिलती है। यदि कोई कंपनी या ब्रांड अपने ग्राहकों को उत्कृष्ट ग्राहक सहायता और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान करने में सफल हो गई। तो उस व्यवसाय के प्रति ग्राहक वफादार रहते हैं।

ऑनलाइन बिजनेस [Online Business ] कैसे शुरू करें

भारत में भी सस्ती इन्टरनेट कनेक्टिविटी और स्मार्ट फोन की उपलब्धता में एक क्रांति सी आई है। इसी क्रांति के बाद भारत में भी ऑनलाइन बिजनेस करना आसान और बेहद महत्वपूर्ण भी हो गया है। क्योंकि यहाँ के लोगों को भी ऑनलाइन खरीदारी काफी पसंद आने लगी है, जिससे ई कॉमर्स बड़ी तेजी से देश में फैल रहा है।

यहाँ पर दो तरह के लोग हैं जो अपना ऑनलाइन बिजनेस करना चाहते हैं, इनमें पहले वे लोग हैं। जो पहले से किसी स्थानीय बाजार में कोई दुकान या स्टोर चला रहे हैं। दुसरे वे हैं जो खुद का नया बिजनेस शुरू करना चाहते हैं। दोनों ही स्थिति में व्यापार की ऑनलाइन मौजूदगी बेहद महत्वपूर्ण है। ऐसे में दोनों तरह के लोगों के इए खुद का ऑनलाइन बिजनेस शुरू करने की प्रक्रिया अल अलग हो सकती है ।

जहाँ पहले से स्थापित इकाई को अपने व्यापार को Online Business में परिवर्तित करना होता है, वहीँ खुद का नया बिजनेस शुरू कर रहे व्यक्ति को कोई ऑनलाइन बिजनेस आईडिया पर विचार करके उसे कार्यान्वित करना होता है। तो चलिए हम यहाँ पर आगे यही जानने का प्रयत्न कर रहे हैं, की कैसे कोई व्यक्ति खुद का ऑनलाइन बिजनेस शुरू कर सकता है।

1. ऑनलाइन बिजनेस आईडिया का चयन करें

खैर ऐसे लोग जो अपने मौजूदा व्यवसाय को ऑनलाइन बिजनेस में परिवर्तित करना चाहते हैं, उन्हें तो किसी प्रकार के बिजनेस आईडिया को चयन करने की आवश्यकता नहीं है। वह इसलिए क्योंकि वे पहले से बिजनेस कर रहे हैं, और उसी बिजनेस को ऑनलाइन संचालित करना चाहते हैं।

लेकिन ऐसे लोग जो नए सिरे से ऑनलाइन बिजनेस शुरू करना चाहते हैं, उन्हें सबसे पहले विभिन्न ऑनलाइन बिजनेस आईडिया में से किसी एक का चुनाव करना होगा। यदि उद्यमी इसके बावजूद भी यह पता लगाने में अक्षम है, की उसे कौन सा बिजनेस करना चाहिए। तो उसे समय समय पर जिन भी समस्याओं से उनका सामना होता है, उनका विश्लेषण करना चाहिए, और सोचना चाहिए की, क्या उसकी उस समस्या का सही हल मार्किट में उपलब्ध है।

यदि नहीं तो व्यक्ति सोच सकता है की जिस समस्या से उसका सामना हुआ है, उसी समस्या से अन्य लोगों का भी तो सामना होता होगा। लेकिन जब उसका उपयुक्त हल बाजार में उपलब्ध है ही नहीं, तो उद्यमी उसका हल बाजार में लाने की कोशिश कर सकता है।

उस समस्या से कितने लोग ग्रसित हैं अर्थात उस विशेष समस्या के समाधान के बदले कितने लोग भुगतान कर सकते हैं। इसका पता गूगल ट्रेंड या गूगल कीवर्ड इत्यादि टूल्स के माध्यम से भी लगाया जा सकता है। ऐसे कदम उठाने के बाद व्यक्ति को ऑनलाइन बिजनेस शुरू करने के लिए एक स्पष्ट दृष्टी मिल सकती है।           

2. अधिक से अधिक रिसर्च करें

जब आप किसी ऑनलाइन बिजनेस आईडिया का चुनाव कर लेते हैं, और उस पर आगे बढ़ना सुनिश्चित कर देते हैं, तो अगला कदम वह आईडिया कितना सार्थक रहेगा।इस पर रिसर्च करने का होता है, इस रिसर्च में उद्यमी को प्रतिस्पर्धा और लक्ष्यित ग्राहकों का अध्यन करना होगा। उद्यमी चाहे तो बाजार की व्यवहारिकता का मूल्यांकन करने के साथ इसका शुभारम्भ कर सकता है।

Online Business में यह रिसर्च करना भी आवश्यक हो जाता है, की लोग ऑनलाइन किन चीजों के बारे में ढूंढ रहे हैं। और ई कॉमर्स वेबसाइट किन आइटम को सबसे अधिक बेच रही हैं। अक्सर देखा गया है की लोग फोन, इत्यादि बहुत सरे इलेक्ट्रिक उपकरणों को ऑनलाइन खरीदना ही पसंद करते हैं।

प्रोडक्ट आधारित ऑनलाइन बिजनेस शुरू करने के लिए उद्यमी को उत्पाद की व्यवहारिकता का भी मूल्यांकन करने की आवश्यकता होती है। अपने प्रतिस्पर्धियों की मूल्य नीतियों, विपणन, गुणों, खामियों इत्यादि की एक लिस्ट बनाएँ।       

3. आवश्यक बिजनेस लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन के बारे में पता करें

एक बार जब आप तय कर लेते हैं की आपको कौन से Online Business Idea के साथ आगे बढ़ना है, और आप प्पोरी तरह रिसर्च भी कर लेते हैं। तो उसके बाद उस व्यवसाय को शुरू करने के लिए आवश्यक लाइसेंस और पंजीकरणों के बारे में अवश्य पता करें।

भारत में अपनी कम्पनी शुरू करने के लिए उद्यमी को अनेकों प्रक्रियाओं से होकर गुजरना पड़ता है।सबसे पहले व्यक्ति को अपने बिजनेस का नाम सर्च करने की आवश्यकता होती है, यह इसलिए ताकि वह एक यूनिक नाम रख पाए। पहले से रजिस्टर बिजनेस के नाम से वह अपना बिजनेस रजिस्टर नहीं कर पायेगा इसलिए सबसे पहले MCA की वेबसाइट पर जाकर व्यापार का नाम सर्च करना होगा।  

उसके बाद कंपनी रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया को पूर्ण करना होगा, टैक्स रजिस्ट्रेशन, बैंक में चालू खाता, पेमेंट गेटवे, लोजिस्टिक इत्यादि का प्रबंध करना होगा। ऑनलाइन बिजनेस के लिए प्राइवेट लिमिटेड कंपनी, वन पर्सन कंपनी, पार्टनरशिप फर्म इत्यादि सभी के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया और आवश्यक दस्तावेज अलग अलग होते हैं।

4. यूजर फ्रेंडली वेबसाइट बनाएँ

ऑनलाइन बिजनेस में व्यवसाय की वेबसाइट होना अत्यंत आवश्यक है। आपकी वेबसाइट के माध्यम से आपके मौजूदा और संभावित ग्राहक आसानी से आप तक पहुँच सकते हैं। क्योंकि उनके पास आपसे संपर्क करने का जो सबसे आसान तरीका होता है, वह यही की आपकी वेबसाइट पर जाकर उसके कांटेक्टअस पेज का इस्तेमाल करना। इसके अलावा उद्यमी के लिए भी ग्राहकों को यह कहना बेहद आसान होता है, की आप हमारी वेबसाइट पर चले जाएँ और उस प्रोडक्ट की फोटो और अन्य स्पेसिफिकेशन वहीँ देख लें।

जिससे उद्यमी का जो समय ग्राहक के साथ लम्बी बातचीत में लगता, अब वह उस समय को कहीं अन्य उपयोगी काम में लगा सकता है। वेबसाइट बनाने के लिए आप किसी डेवलपर या ऐसी कंपनी जो वेबसाइट बनाने से लेकर उसकी मार्केटिंग इत्यादि से लेकर सब कुछ देखे को नियुक्त कर सकते हैं ।    

5. पेमेंट गेटवे का चयन करें

यदि आप अपनी वेबसाइट के माध्यम से अपने प्रोडक्ट या सेवा बेच रहे हैं तो आपको पेमेंट गेटवे का चुनाव करना होगा। अधिकतर पेमेंट गेटवे होने वाली ट्रांजेक्शन पर 1% या इससे भी कम कमीशन लेते हैं। तो कई पेमेंट गेटवे एक निश्चित शुल्क भी लेते हैं। पेमेंट गेटवे का काम आपकी वेबसाइट से हो रहे लेनदेन को सम्बंधित बैंक खातों तक पहुँचाने का होता है, इसलिए यह Online Business के लिए बेहद जरुरी है। RazorPay, Paytm, Paypal इत्यादि पेमेंट गेटवे भारत में मौजूद हैं।        

6. लोजिस्टिक प्रोवाइडर का चयन करें

अब आपने अपने ऑनलाइन बिजनेस की वेबसाइट भी बना ली, और उसमें पेमेंट गेटवे भी लगा लिया। तो अब अगला कदम लोजिस्टिक प्रोवाइडर का चुनाव करने का होना चाहिए।लोजिस्टिक की जरुरत उद्यमी को बिके हुए उत्पादों को ग्राहकों के दिए गए पते तक डिलीवरी करने का होता है।भारत में वर्तमान में कई लोजिस्टिक कम्पनियाँ जैसे ब्लूडार्ट, Delhivery, Shiprocket इत्यादि हैं। उद्यमी अपनी पसंद और आवश्यकतानुसार किसी भी लोजिस्टिक कंपनी के साथ टाई अप कर सकता है।    

7. मार्केटिंग टूल्स एवं सर्विस को अपनाएँ

उद्यमी अपने Online Business को विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफोर्म के माध्यम से प्रमोट कर सकता है। इसके लिए उद्यमी फेसबुक मार्केटिंग, गूगल एड, सर्च इंजन मार्केटिंग इत्यादि जैसे टूल्स को अपना सकता है। सोशल मीडिया में कई ऐसे टूल्स हैं, जिनका बिलकुल फ्री में भी इस्तेमाल किया जा सकता है।इसके अलावा उद्यमी पेड एड कैंपेन चलाकर भी अपने ऑनलाइन बिजनेस को प्रमोट कर सकता है।

अन्य भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *