नूडल्स बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें? Noodles Manufacturing Business

हालांकि वर्तमान में बाज़ारों में तरह तरह के नूडल्स विद्यमान हैं लेकिन इस लेख में Noodles Manufacturing से हमारा आशय चाऊमीन बनाने में इस्तेमाल में लायी जाने वाली नूडल्स से है । चाऊमीन की यदि हम बात करें तो भारत में यह एक सबसे अधिक लोकप्रिय स्नैक्स आइटम में से एक है यही कारण है की हमें हर स्थानीय बाजार में इसके स्टाल या दुकानें देखने को मिल जाएँगी। और यदि वर्तमान की हम बात करें तो भले ही शहरी इलाकों में नूडल्स या चाऊमीन का उपभोग अधिक जनसँख्या होने के कारण अधिक होता हो। लेकिन इस स्नैक्स आइटम की लोकप्रियता से ग्रामीण इलाके भी अछूते नहीं रह गए हैं और ग्रामीण इलाकों में उपलब्ध छोटे बाज़ारों में भी चाऊमीन बनाने के स्टाल या दुकान देखे जा सकते हैं। इसलिए इस स्थिति में यदि कोई Noodles Manufacturing Business शुरू करेगा तो उसके लिए फायदेमंद तो हो सकता है। लेकिन उसे उस एरिया विशेष में गहराई एवं व्यवहारिक ढंग से रिसर्च करने की आवश्यकता अवश्य हो सकती है। चूँकि नूडल्स बनाने की प्रक्रिया बेहद आसान होती है इसलिए इसे कोई भी इच्छुक व्यक्ति जो कम निवेश के साथ व्यवसाय शुरू करने का विचार अपने मष्तिष्क में कर रहा हो, वह शुरू कर सकता है। इस व्यवसाय अर्थात Noodles Manufacturing Business शुरू करने के लिए कच्चे माल के तौर पर टैपिओका आटा और मैदे की आवश्यकता होती है। जिसका उत्पादन अनाजों से ही किया जाता है और जैसा की हम सब जानते हैं हमारा देश भारत एक कृषि प्रधान देश है। इसलिए इस उद्योग में इस्तेमाल में लाये जाने वाले कच्चे माल की उपलब्धता यहाँ लगभग हर कोने में मौजूद है। यदि आप भी कोई ऐसा स्टार्टअप शुरू करने की सोच रहे हैं जिसमें कम निवेश पूँजी की आवश्यकता हो तो आज का हमारा यह लेख आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। क्योंकि इस लेख के माध्यम से आज हम नूडल्स बनाने के बिजनेस के बारे में जानकारी देने का प्रयत्न कर रहे हैं। लेकिन उससे पहले यह जान लेते हैं की आखिर यह बिजनेस है क्या?

Noodles Manufacturing business in Hindi

नूडल्स निर्माण बिजनेस क्या है (What is Noodles Manufacturing Business )

ताजे नूडल्स की यदि हम बात करें तो इनका निर्माण टैपिओका आटा और मैदे से किया जाता है अर्थात यह टैपिओका आटा और मैदे से निर्मित एक उत्पाद है। ये धागे की तरह लम्बे होते हैं और इनकी मोटाई 0.22mm से 0.4 mm हो सकती है। यह एक ऐसा उत्पाद है जिसे तत्काल बनाकर खाया जा सकता है अर्थात इन्हें बनाने में अधिक समय नहीं लगता है। यही कारण है की खाने का यह उत्पाद स्नैक्स एवं फ़ास्ट फ़ूड में काफी लोकप्रिय है और गली मोहल्लों में स्थित फ़ास्ट फ़ूड स्टाल एवं दुकानों में धड़ल्ले से बिकता है। इस तरह का यह खाने का आइटम बाजार में उपलब्ध सबसे पारम्परिक खानों में से एक है। इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखकर जब किसी व्यक्ति द्वारा व्यवसायिक तौर पर Noodles Manufacturing शुरू करके कमाई की जाती है। तो उसके द्वारा किया जाने वाला यह काम नूडल्स निर्माण बिजनेस कहलाता है।

नूडल्स की बिक्री संभाव्यता

नूडल्स टैपिओका आटा और मैदे से बना एक मूल्य वर्धित प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ है। और यह प्रसंस्कृत अनाज उत्पादों में लगभग 45% की हिस्सेदारी रखता है और आउटपुट एवं गठन के आधार पर यह प्रसंस्कृत खाद्य बाजार का एक बहुत बड़ा हिस्सा है। वैसे तो इस तरह का यह आइटम लगभग देश के हर क्षेत्र में प्रसिद्ध है लेकिन उत्तरी भागों में यह अन्य की तुलना में अधिक प्रसिद्ध है। Noodles Manufacturing Business की सफलता की उम्मीद इस बात से लगाई जा सकती है की इसकी बिकने की संभावना सिर्फ शहरी इलाकों में ही नहीं अपितु ग्रामीण इलाकों में भी बराबर ही है। और इसके स्वाद एवं तेजी से बनने के गुण के कारण इसकी पॉपुलैरिटी और तेजी से बढती जा रही है वैसे देखा जाय तो लोग घरों की बजाय घर के बाहर फ़ास्ट फ़ूड स्टालों, दुकानों में चाऊमीन खाना पसंद करते हैं। लेकिन वर्तमान में हर तरह की पार्टी, आयोजनों इत्यादि में चाऊमीन को भी स्नैक्स या फ़ास्ट फ़ूड के तौर पर खाने के मेनू में प्रमुखता से शामिल किया जाता है। इसलिए इन सब कारणों से प्लेन नूडल्स की बिकने की संभावना और भी अधिक हो गई है। जन्मदिन पार्टी एक ऐसा आयोजन है जिसे लोग हर साल बनाते हैं और ऐसे आयोजनों में खाने के तौर पर चाऊमीन इत्यादि को प्रमुखता से शामिल किया जाता है। यद्यपि जनसँख्या में हो रही लगातार वृद्धि, लगातार हो रहे औद्योगिकीकरण, लोगों की खरीदारी की क्षमता में वृद्धि, लोगों की खान पान की आदतों में हो रहे बदलाव, खाना इत्यादि बनाने के लिए लोगों के पास समय की कमी इत्यादि कुछ ऐसे कारण हैं जिससे Noodles Manufacturing Business की सफलता की संभावना और भी तटस्थ हो जाती है।   

नूडल्स निर्माण बिजनेस कैसे शुरू करें (How to Start Noodles manufacturing Business)  

जैसा की हम पहले भी बता चुके हैं की Noodles Manufacturing Business एक ऐसा व्यवसाय है जिसे छोटे स्तर पर कम पूँजी के निवेश से भी आसानी से शुरू किया जा सकता है। लेकिन ध्यान देने वाली बात यह है की आम तौर पर बाजार में कई तरह के नूडल्स आते हैं इनमें एक ऐसे नूडल्स हैं जो रेडी टू इट होते हैं और इनमें पहले से मसाले, नमक, मिर्च, तेल इत्यादि डाले हुए होते हैं। इन्हें सिर्फ कुछ मिनटों में आसानी से तैयार किया जाता है मैगी, ईपी इत्यादि इसके उदाहरण हैं। दुसरे नूडल्स प्लेन नूडल्स होते हैं इनमें सब कुछ बाद में बनाते समय एड किया जाता है इन नूडल्स को चाऊमीन भी कहा जाता है। हम यहाँ पर इन्हीं प्लेन नूडल्स को बनाने के बारे में बात कर रहे हैं। तो आइये जानते हैं की कैसे कोई व्यक्ति खुद का नूडल्स निर्माण उद्योग शुरू कर सकता है।

1. स्थानीय स्तर पर रिसर्च करें

हालांकि इसमें कोई दो राय नहीं की घरेलु बाजार में नूडल्स की अच्छी खासी मांग है लेकिन चूँकि शुरुआत में उद्यमी अपने उत्पाद को देश के बड़े बाज़ारों में शायद ही पहुँचाने में सक्षम हो। क्योंकि यदि उद्यमी के प्लांट की दूरी बड़े बाज़ारों से काफी अधिक हुई तो उसे ट्रांसपोर्टेशन कास्ट बहुत अधिक वहन करना पड़ सकता है और उस अनभिज्ञ मार्किट में यह भी निश्चित नहीं है की कोई उद्यमी के उत्पाद को खरीदेगा या फिर नहीं। इस स्थिति से बचने का सरल उपाय यही है की Noodles Manufacturing Business शुरू कर रहे उद्यमी को सर्वप्रथम स्थानीय स्तर यानिकी जिस एरिया में वह यह बिजनेस करना चाहता हो, उसके आस पास की मार्किट में जहाँ उसे लगता हो की वह उस मार्किट में अपने उत्पाद बेच सकता है। में रिसर्च शुरू करनी चाहिए और यह रिसर्च अनेक बातों पर आधारित होनी चाहिए जैसे उस एरिया विशेष में फ़ास्ट फ़ूड भोजनालयों, होटल, ढाबों इत्यादि की क्या संख्या है? और क्या वे सभी भोजनालय, होटल ढाबे इत्यादि अपने ग्राहकों को चाऊमीन बनाकर बेचते हैं। और फिर उनकी संख्या के हिसाब से अपनी उत्पादन क्षमता का आकलन करना होगा, कहीं ऐसा तो नहीं की उद्यमी उस एरिया विशेष में उपलब्ध संभावना से अधिक उत्पादन कर रहा हो। इसके अलावा उस एरिया में पहले से कोई Noodles Manufacturing Business तो नहीं कर रहा है? क्या उस एरिया के लोग अपने घरेलु इस्तेमाल के लिए भी प्लेन नूडल्स खरीदना पसंद करते हैं। इत्यादि बहुत सारी ऐसी बाते हैं जिनकी जानकारी होने के बाद ही उद्यमी उनके निदान एवं आगे बढ़ने का निर्णय ले पाने में सक्षम हो पायेगा।       

2. प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनायें (Prepare project report for Noodles manufacturing)

प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाना उद्यमी के लिए इसलिए जरुरी हो जाता है की इस दस्तावेज के माध्यम से उद्यमी बैंक इत्यादि से ऋण के लिए भी आवेदन कर सकता है। और यदि प्रोजेक्ट रिपोर्ट पूर्ण रूप से व्यवहारिक हुई तो उद्यमी को उसके व्यवसाय को शुरू करने में आने वाली पूँजी लागत का अनुमानित पता इसके माध्यम से चल जाता है। जहाँ तक Noodles Manufacturing Project में आने वाली पूँजी लागत का सवाल है वह प्लांट के आकार, उत्पादन क्षमता, प्लांट एरिया, जहाँ प्लांट शुरू हो रहा हो वो शहर इत्यादि बातों पर निर्भर करता है। क्योंकि मशीन की उत्पादन क्षमता के आधार पर मशीन की कीमत एवं उसमें इस्तेमाल में लाये जाने वाले कच्चे माल की मात्रा में कमी एवं बढ़ोत्तरी होती रहती है । वहीँ शहर, जगह, एरिया इत्यादि के आधार पर जमीन की कीमत एवं किराया इत्यादि भी परिवर्तित होता रहता है इसलिए इस व्यवसाय को शुरू करने में अनुमानित लागत क्या होगी। यह उद्यमी को प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार करने के बाद ही पता चल पायेगा की उसकी योजना के मुताबिक अनुमानित लागत क्या होगी।      

3. वित्त का प्रबंध करें (Arrangement of Funds)

प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाने के बाद Noodles Manufacturing Business कर रहे उद्यमी को इस बात का पता लग गया होगा की उसे उसके प्रोजेक्ट को मूर्त रूप देने में लगभग कितनी पूँजी का निवेश करने की आवश्यकता होगी। अब यदि उद्यमी की व्यवसायिक योजना के मुताबिक प्रोजेक्ट शुरू करने में कम पूँजी निवेश की आवश्यकता है तो उद्यमी चाहे तो अपनी व्यक्तिगत बचत से भी वित्त का प्रबंध कर सकता है। लेकिन उससे पहले किसी सब्सिडी वाली ऋण योजना के बारे में भी अवश्य पता करे यह कार्य उद्यमी जिला उद्योग केंद्र में संपर्क करके भी कर सकता है। और यदि उद्यमी को लगता है की वह अपनी व्यक्तिगत बचत से इतने पैसों का प्रबंध नहीं कर पायेगा तो फिर उसे ऋण के औपचारिक स्रोतों जैसे बैंक, वित्तीय संस्थान इत्यादि के माध्यम से वित्त का प्रबंध करने की आवश्यकता होगी। 

4. जगह एवं बिल्डिंग का प्रबंध करें

प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाने के बाद उद्यमी का अगला कदम अपने Noodles Manufacturing Business के लिए जगह एवं बिल्डिंग का प्रबंध करने का होना चाहिए। एक छोटी इकाई शुरू करने के लिए लगभग 700 Square Feet जगह उपयुक्त रहेगी । लेकिन मशीनरी इंस्टाल करने से पहले उद्यमी को एक फ्लोर प्लान तैयार करने की भी आवश्यकता हो सकती है। जगह या बिल्डिंग लीज पर या किराये पर सभी औपचारिकतायें पूर्ण करके ली जा सकती हैं। जगह एवं बिल्डिंग के अलावा उद्यमी को इलेक्ट्रिसिटी, पानी एवं कुशल कर्मचारियों का प्रबंध करने की भी आवश्यकता होती है।     

5. जरुरी लाइसेंस एवं रजिस्ट्रेशन

जैसा की हम सब अच्छी तरह से जानते हैं की यह खाद्य उत्पाद है और खाद्य उत्पादों के निर्माण इत्यादि के लिए फ़ूड लाइसेंस की आवश्यकता होती है। लेकिन सबसे पहले Noodles Manufacturing Business कर रहे उद्यमी को अपने व्यवसाय को वैधानिक स्वरूप प्रदान करने के लिए उसे रजिस्ट्रार ऑफ़ कम्पनीज में प्रोप्राइटरशिप के तौर पर रजिस्टर कराना होगा। प्रोप्राइटरशिप इसलिए क्योंकि इसमें रजिस्ट्रेशन प्रोसेस आसान एवं सरल है और उद्यमी को बहुत सारी औपचारिकतायें करने की आवश्यकता नहीं होती है उद्यमी चाहे तो ऑनलाइन भी यह प्रक्रिया पूर्ण कर सकता है। नूडल्स निर्माण बिजनेस में उद्यमी को निम्नलिखित लाइसेंस एवं रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता हो सकती है।

  • रजिस्ट्रार ऑफ़ कम्पनीज के साथ रजिस्ट्रेशन
  • स्थानीय प्राधिकरण जैसे नगर निगम इत्यादि से ट्रेड लाइसेंस
  • टैक्स रजिस्ट्रेशन, बैंक चालू खाता, पैन कार्ड इत्यादि
  • फ़ूड निर्माण लाइसेंस
  • उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन
  • गुणवत्ता के लिए बीआईएस सर्टिफिकेशन

चूँकि इस तरह की यह इकाई किसी प्रकार के प्रदूषण का उत्सर्जन नहीं करती है इसलिए पोल्यूशन कण्ट्रोल अथॉरिटी से नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट की आवश्यकता तो नहीं है। लेकिन इसके बावजूद भी Noodles Manufacturing Business करने वाले उद्यमी को स्थानीय कार्यालय में जाकर इस बारे में अवश्य पता करना चाहिए।  

6. मशीनरी एवं कच्चे माल का प्रबंध

जहाँ तक मशीनरी का सवाल है वर्तमान में Noodles Manufacturing करने की आटोमेटिक, सेमी आटोमेटिक एवं मैन्युअल मशीन भी बाजार में उपलब्ध हैं। यदि आटोमेटिक चाऊमीन बनाने वाली मशीन की यदि हम बात करें तो इसकी कीमत इसकी क्षमता के आधार पर 50 हज़ार से लेकर 3.5 लाख रूपये तक कुछ भी हो सकती है। इस आटोमेटिक मशीन में नूडल्स निर्माण में काम आने वाले सभी सहायक उपकरण शामिल होते हैं। लेकिन आज से यदि हम दस साल पीछे की बात करें तो इनका निर्माण विभिन्न मशीन की मदद से किया जाता था। इस बिजनेस में काम आने वाली कुछ प्रमुख मशीनरी एवं उपकरणों की लिस्ट निम्नवत है।

  • आटोमेटिक नूडल्स मेकिंग मशीन
  • लकड़ी की ट्रे
  • ढक्कन के साथ प्लास्टिक की बाल्टी
  • पानी की फिटिंग के लिए धातु से निर्मित पाइपलाइन
  • वाटर बायलर
  • भार मापने की मशीन
  • पैकेजिंग मशीन

कच्चे माल की लिस्ट  

  • मैदा
  • स्टार्च
  • केमिकल जैसे सोडियम बाई कार्बोनेट
  • खाने के रंग वैसे प्लेन नूडल्स में इसकी कम ही आवश्यकता होती है ।
  • नमक इसकी भी प्लेन नूडल्स के मामले में आवश्यकता कम ही होती है।
  • पैकेजिंग सामग्री      

7. निर्माण प्रक्रिया शुरू करें  (Start Noodles manufacturing Process)

जैसा की हम सब अच्छी तरह से जानते हैं की बाजार में अधिकतर नूडल्स का निर्माण आटे के मिश्रण को ब्लेंड करके किया जाता है इनमें मुख्य रूप से टैपिओका आटा और मैदे का इस्तेमाल होता है। जहाँ तक इस लेख में प्रस्तावित Noodles Manufacturing Business यानिकी चाऊमीन बनाने की प्रक्रिया का सवाल है। इसमें सर्वप्रथम टैपिओका आटा और मैदे का मिश्रण बनाया जाता है और फिर किसी बाल्टी या अन्य बर्तन की मदद से इस मिश्रण को आटोमेटिक चाऊमीन मेकिंग मशीन में धीरे धीरे डाला जाता है । इससे वह मशीन इस मिश्रण की पतली सी चादर सी बनाती जाती है और यदि इस मिश्रण की कोई चादर कटी फटी सी निकले तो उसे इस मशीन में दुबारा डाला जाता है और ज्यादा गिला होने पर सूखे आटे का इस्तेमाल किया जाता है। जब मशीन द्वारा एक बार में सभी आटे की पतली सी परत चादर के रूप में तैयार कर ली जाती है। फिर इस चादर को मशीन के अलग हिस्से में डाला जाता है जहाँ पर इस चादर को मशीन अनेकों पतले पतले लम्बे भागों में विभाजित कर चाऊमीन का स्वरूप प्रदान करती है। उसके बाद उत्पादित नूडल्स को पैकिंग करके बाजार में बेचने के लिए भेज दिया जाता है। 

अन्य लेख भी पढ़ें