मनुष्य अपने भविष्य को बेहतर करने के बारे में सबसे ज्यादा सोचता है। यही कारण है की लोग फ्यूचर बिजनेस आइडियाज के बारे में भी जानने के इच्छुक रहते हैं। यदि आप भी उनमें से हैं, जो अपने खुद का बिजनेस करना चाहते हैं। लेकिन आप ऐसे बिजनेस आईडिया के बारे में ढूंढ रहे हैं, जिनके भविष्य में चलने की ज्यादा संभावनाएँ हैं। आज का यह लेख आपके लिए महत्वपूर्ण हो सकता है।

जी हाँ कोई भी बिजनेस शुरू करने के पीछे उद्यमी का लक्ष्य उससे अच्छा लाभ प्राप्त करना होता है। और अच्छा लाभ उन्हीं व्यवसायों से कमाया जा सकता है, जिसकी बाज़ार में अच्छी माँग हो। इसके अलावा यदि आप चाहते हैं की आप अपने व्यवसाय से लम्बे समय तक स्थायी लाभ प्राप्त करते रहें। तो आपको एक ऐसे बिजनेस में निवेश करना होगा, जिसकी भविष्य में भी लाभ कमाकर देने की संभावना ज्यादा हो।

जिन बिजनेस की भविष्य में स्थायी लाभ प्रदान करने की क्षमता होती है, ऐसे ही व्यवसायों को हम फ्यूचर बिजनेस आईडिया की श्रेणी में डालते हैं। हालांकि भले ही भारत विकसित देशों की तुलना में विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में पीछे हो। लेकिन भारत की ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स में लगातार सुधार हो रहा है।

इसलिए कहा जा सकता है की हमारा देश भारत भी इनोवेशन और प्रौद्योगिकी की और अग्रसित है। और भविष्य में यहाँ भी कई नई नई व्यवसायिक विचारों का जन्म हो सकता है। इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखते हुए आज हम कुछ ऐसे बिजनेस के बारे में बात करने वाले हैं। जिनसे भविष्य में और अधिक कमाई की उम्मीद की जा सकती है।

फ्यूचर बिजनेस आइडियाज
फ्यूचर बिजनेस आइडियाज

फ्यूचर बिजनेस आईडिया क्या हैं?

ऐसे बिजनेस जिनके भविष्य में अच्छा प्रदर्शन करने की संभावना जताई गई हो, उन्हें फ्यूचर बिजनेस आईडिया कह सकते हैं। इनमें कुछ इनोवेशन और प्रौद्योगिकी में बदलाव के चलते, बिलकुल नए भी हो सकते हैं। तो कुछ वर्तमान के ऐसे व्यवसाय भी हो सकते हैं, जो आज कम चलते हों।

कहने का आशय यह है की मनुष्य की जीवनशैली में हो रहे परिवर्तन और इनोवेशन और टेक्नोलॉजी में हो रही वृद्धि और सुधार के कारण भविष्य में जिन व्यवसायों के पैदा होने की उम्मीद या फिर अधिक चलने की उम्मीद जताई जाती है। ऐसे बिजनेस ही फ्यूचर बिजनेस कहलाते हैं।

फ्यूचर बिजनेस आईडिया की लिस्ट

कुछ ऐसे बिजनेस आईडिया हैं, जो भविष्य में भारत के बाज़ारों पर अपना कब्ज़ा कर सकते हैं। इनकी लिस्ट कुछ इस प्रकार से है।

1. ई कॉमर्स वेयरहाउस

जैसे जैसे लोगों की रूचि ऑनलाइन खरीदारी में बढ़ रही है। वैसे वैसे देश में कार्यरत ई कॉमर्स कंपनियाँ अपनी सर्विस को भारत के हर एक कोने में प्रदान की ओर प्रयासरत हैं। यही कारण है की इन ई कॉमर्स कंपनियों को एक निश्चित दूरी पर वेयरहाउस बनाने की आवश्यकता होती है।

जहाँ पहले ग्रामीण भारत में या छोटे नगरों में लोग ऑनलाइन खरीदारी करने से हिचकिचाते थे। आज उन्हें भी ऑनलाइन खरीदना काफी आसान और विश्वसनीय लग रहा है। यही कारण है की भारत में ई कॉमर्स कंपनियां अपने कारोबार को हर एक गाँव तक पहुँचाने के लिए प्रयासरत हैं। और आने वाले समय में उन्हें बड़ी मात्रा में वेयरहाउस की आवश्यकता हो सकती है।

वैसे देखा जाय तो केवल ई कॉमर्स कंपनियों को ही गोदामों की आवश्यकता नहीं होती, बल्कि गोदाम तो हर बिजनेस को चाहिए होते हैं। लेकिन ई कॉमर्स कम्पनियाँ चाहती हैं की उनकी तरफ से कोई अन्य उनके उनके गोदाम को प्रबंधित करे। इसलिए वे अपने वेयरहाउस को प्रबंधित करने का काम किसी थर्ड पार्टी को देना पसंद करते हैं ।

हालांकि यह फ्यूचर बिजनेस आईडिया काफी निवेश खाने वाला बिजनेस है। क्योंकि इसमें आपको बड़ी जगह के अलावा सामान इत्यादि को ट्रांसपोर्ट करने के लिए वाहनों की भी आवश्यकता होती है।          

2. अक्षय और स्वच्छ ऊर्जा आपूर्ति

इसमें कोई दो राय नहीं की दुनिया इनोवेशन और टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में नित नए आयाम छू रही है। लेकिन यह उर्जा को लेकर कई तरह की परेशानियों का सामना कर रही है। आज भी दुनिया के अधिकतर देश उर्जा के पारम्परिक स्रोतों जैसे बिजली संयंत्रों, कोयला, पेट्रोलियम उत्पादों, जल और परमाणु उर्जा पर ही निर्भर हैं, जिन्हें ऐसे स्रोतों से प्राप्त किया जाता है जो सम्पूर्ण पृथ्वी के लिए जोखिमभरे हो सकते हैं।

इसलिए आने वाले समय में भारत में भी अक्षय और स्वच्छ उर्जा आपूर्ति कंपनियों की माँग होने वाली है। इनमें सोलर एनर्जी कंपनी, सोलर इलेक्ट्रिकल ग्रिड कंपनी इत्यादि शामिल हैं।    

3. इन्टरनेट प्रोवाइडर

यदि आप भारत में एक सही फ्यूचर बिजनेस आईडिया की तलाश कर रहे हैं तो शायद ही इन्टरनेट से कुछ बेहतर हो सकता है। वर्तमान में हर कोई इन्टरनेट उपयोगकर्ता सही और बेहतर इन्टरनेट कनेक्शन की तलाश में रहता है। और एक आंकड़े के मुताबिक भारत इन्टरनेट उपयोगकर्ताओं के मामले में दूसरा सबसे बड़ा देश है। दुनिया में सबसे अधिक इन्टरनेट उपयोगकर्ता चीन में हैं और उसके बाद भारत में।

इस तरह का फ्यूचर बिजनेस आईडिया को शुरू करने के लिए आप किसी ऐसे क्षेत्र को चुनिए जहाँ अन्य किसी जैसे जिओ, एयरटेल इत्यादि की सर्विस नहीं है। और वहां पर जिओ, एयरटेल या अन्य किसी इन्टरनेट प्रदाता के साथ भागीदारी करें। आप चाहें तो शुआती दौर में अपनी वाई-फाई इंस्टालेशन कंपनी भी शुरू कर सकते हैं।        

4. इन्टरनेट ऑफ़ थिंग्स डेवलपर

इन्टरनेट ऑफ़ थिंग्स डेवलपर के तौर पर आपको एक क्षेत्र विशेष के लोगों को इन्टरनेट ऑफ़ थिंग्स डेवलपर सेवाएं प्रदान करने के लिए एक डिजिटल घर बनाने की आवश्यकता होती है। जैसा की हम सब जानते हैं की दुनिया की अन्य अर्थव्यवस्थाओं के साथ प्रतिस्पर्धा करने की दिशा में भारत भी पूरी तरह से डिजिटल दुनिया में बदलने को प्रयासरत है।

डिजिटल इंडिया कार्यक्रम भारत को डिजिटल दुनिया में बदलने के लिए एक सार्थक कदम था, जिसके तहत सभी सरकारी सेवाओं को जनता के लिए डिजिटली उपलब्ध कराना है। यह एक बेहतरीन फील्ड है जो आने वाले समय के साथ और बढ़ता जाएगा। इसलिए इस फ्यूचर बिजनेस आईडिया से कमाई के भरपूर अवसर विद्यमान हैं।

5. बायोमेट्रिक सेंसर बनाने का बिजनेस

यदि आप एक भारतीय हैं, तो आधार कार्ड तो आपने बनाया ही होगा। जी हाँ आधार कार्ड बनाते समय बायोमेट्रिक सेंसर का इस्तेमाल किया जाता है, क्योंकि यह आपकी अँगुलियों और आँखों की उर्जा को पढने के लिए विद्युत् तरंगों का इस्तेमाल करता है।

यह तो आधार कार्ड परियोजना की बात थी, लेकिन वर्तमान में बड़ी बड़ी कंपनियाँ बायोमेट्रिक सेंसर का इस्तेमाल सुरक्षा और कर्मचारियों का रिकॉर्ड रखने के लिए भी करती हैं। चूँकि यह उपकरणों तक एक प्रमाणिक पहुँच को सुनिश्चित करता है इसलिए इन्टरनेट ऑफ़ थिंग्स को भी इसकी आवश्यकता हो रही है।

ऐसे लोग जो भारत में फ्यूचर बिजनेस आईडिया तलाश रहे हैं, उनके लिए बायोमेट्रिक सेंसर बनाने का यह बिजनेस लाभकारी हो सकता है। क्योंकि भविष्य में बायोमेट्रिक सेंसर की माँग और अधिक बढ़ने की संभावना है।      

6. साइबर अटैक से बचाने वाली कंपनी

इसमें कोई दो राय नहीं की जैसे जैसे इन्टरनेट के उपयोग बढ़ रहे हैं, वैसे वैसे दुनिया में हैकर्स की संख्या भी बढ़ रही है। इन्टरनेट पर हमले करने वालों में ऐसा ही एक नाम DDOS का है, जहाँ कई हैकर्स द्वारा एक साईट को निशाना बनाया जाता है। जैसे जैसे इन्टरनेट की स्पीड बढ़ रही है, वैसे वैसे वेबसाइटो पर होने वाले अटैक की संख्या में भी बढ़ोत्तरी हो रही है।

यही कारण है की वेबसाइट के स्वामी हमेशा अपनी वेबसाइट की सुरक्षा को लेकर फिक्रमंद रहते हैं। इसलिए एक ऐसा बिजनेस जिसमें कंपनी अपने ग्राहकों की वेबसाइट को साइबर अटैक से बचाए, काफी लाभकारी साबित हो सकता है ।

हालांकि इस फ्यूचर बिजनेस आईडिया में भी आपको प्रतिस्पर्धा देखने कप मिल सकती है। क्योंकि भारत में भी पहले से कई साइबर सिक्यूरिटी कंपनी पहले से कार्य कर रही हैं।  इनसे अलग और बेहतर करने के लिए आपको जगह, कोडिंग, सॉफ्टवेयर इत्यादि की आवश्यकता होगी।       

7. मोबाइल एप्प बनाने का बिजनेस

यद्यपि इस तरह का बिजनेस शुरू करने के लिए आपको कोडिंग और मोबाइल एप्प बनाने के ज्ञान की आवश्यकता होती है। लेकिन वर्तमान में बहुत सारे ऐसे सॉफ्टवेयर भी हैं जिनकी मदद से आप किसी वेबसाइट को मोबाइल एप्प में कन्वर्ट कर सकते हैं।

आज के समय में हर कोई अपने व्यवसाय का मोबाइल एप्प बनाना पसंद कर रहा है। यहाँ तक की वेबसाइट के स्वामी भी अपने वेबसाइट को मोबाइल एप्प में कन्वर्ट करना चाहते हैं। इसके पीछे का कारण इन्टरनेट की उच्च बैंडविडथ और इन्टरनेट का अधिक इस्तेमाल है।

वैसे आप चाहें तो शुरूआती दौर में मोबाइल एप्प बनाने के लिए ऐसे प्रोग्रामर से संपर्क कर सकते हैं, जो फ्रीलांसिंग करते हों। इस तरह से आपको यह फ्यूचर बिजनेस आईडिया शुरू करने के लिए स्टाफ नियुक्त करने की भी आवश्यकता नहीं होगी।        

8. आईटी सर्विस कंपनी

दुनिया में आईटी सेवाओं की भारी माँग है। इस तरह का यह फ्यूचर बिजनेस आईडिया शुरू करने के लिए आपको अन्य जरुरतमंद कंपनीयों को सर्वर और हार्डवेयर के लिए स्थान प्रदान करना होता है। हमारा देश भारत दुनिया आईटी सेवाओं का सबसे बड़ा निर्यातक रहा है। यहाँ आईटी पेशेवरों की कोई कमी नहीं है, लेकिन कुछ कंपनियाँ ऐसी भी होती हैं।

जो आईटी से रिलेटेड जरूरतों को आउटसोर्स करती हैं, ताकि उन्हें आईटी पेशेवर एवं सर्वर, हार्डवेयर इत्यादि के लिए स्थान पर खर्चा नहीं करना पड़े।     

9. कम्युनिटी जनरेटर सर्विस

यद्यपि भारत सरकार और राज्य सरकारों के प्रयास से भारत के अधिकतर गाँव देहातों में बिजली पहुँच चुकी हैं। लेकिन इसके बावजूद भी बहुत सारे नगर, कस्बे, गाँव ऐसे हैं जहाँ बिजली की भारी कमी है । भारत की यदि हम बात करें तो यह बिजली का तीसरा सबसे बड़ा उत्पादक और उपभोक्ता दोनों है।

जिस फ्यूचर बिजनेस की बात हम यहाँ पर कर रहे हैं। इसके तहत आप चाहें तो विभिन्न समुदायों से बात करके उन्हें जनरेटर के माध्यम से बिजली प्रदान करने की योजना बना सकते हैं। बिजली की आवश्यकता सभी को है चाहे वे उद्योग हो या घर सभी को बिजली चाहिए।     

10. स्काईस्क्रेपर ग्रीन हाउस

आज भारत जनसँख्या की दृष्टी से दूसरा सबसे बड़ा देश है, लेकिन आशंका यह जताई जा रही है की यदि भारत की जनसँख्या इसी अनुपात में बढती रही, तो आने वाले कुछ सालों में भारत जनसँख्या के मामले में पहले नंबर पर होगा। इतनी बड़ी जनसँख्या को रहने के लिए भूमि कस इस्तेमाल होने कारण कृषि योग्य भूमि का संकुचन होता जा रहा है।

ऐसे में लोगों को ताज़ी और सही सब्जियां और फल नहीं मिल पाते हैं। यही कारण है की आप चाहें तो गगनचुम्बी इमारतों में भी लम्बवत ग्रीनहाउस बनाकर सब्जी और फलों का उत्पादन कर सकते हैं। हालांकि इस तरह का यह फ्यूचर बिजनेस शुरू करने में निवेश अधिक आता है। लेकिन यह फायदेमंद बिजनेस की लिस्ट में शामिल है।     

11. स्प्रे पेंटिंग

वर्तमान में लगभग हर सतह पर स्प्रे पेंटिंग का इस्तेमाल किया जा रहा है। लेकिन भविष्य में इसके और अधिक इस्तेमाल बढ़ने की आवश्यकता है। स्प्रे पेंट का उपयोग लकड़ी, प्लास्टिक, सिरेमिक, कैनवास, प्लास्टर इत्यादि सतहों पर अच्छे से किया जा सकता है।

यद्यपि इस तरह का यह फ्यूचर बिजनेस शुरू करने के लिए उद्यमी को रचनात्मक और कल्पनाशील कर्मचारियों को नियुक्त करने की आवश्यकता हो सकती है। इसके अलावा आपको बहुत सारे स्प्रे कलर की आवश्यकता भी होती है।     

12. मोबाइल वॉलेट पेमेंट

आज जिस दौर से हम गुजर रहे हैं, इसमें किसी भी व्यक्ति को बैंक के चक्कर लगाना, एटीएम के चक्कर लगाना इत्यादि अच्छा नहीं लगता है। लोग चाहते हैं की उनके मोबाइल से ही सारे वित्तीय काम आसानी से हो जाएँ । और लोगों की इस आवश्यकता को मोबाइल वॉलेट पेमेंट कंपनियों ने पूरा भी किया है ।

लेकिन आने वाले समय में इनकी डिमांड और उपयोग और अधिक बढ़ने की संभावना है। इसलिए ऐसा कोई भी उद्यमी जो फ्यूचर बिजनेस शुरू करने के बारे में विचार कर रहा हो। मोबाइल वॉलेट पेमेंट कंपनी शुरू करने पर भी विचार कर सकता है।

13. स्टॉक मार्किट ट्रेडिंग

आप सोच रहे होंगे की स्टॉक मार्किट में ट्रेडिंग करना भी भला कोई बिजनेस होता है। जी हाँ बिलकुल होता है, आज भी बहुत सारे निवेशक स्टॉक मार्किट में ट्रेडिंग करके ही अच्छी खासी कमाई कर रहे हैं। हालांकि इस तरह का यह बिजनेस आप चाहें तो एक ब्रोकर या ब्रोकरेज फ्रैंचाइज़ी के तौर पर भी शुरू कर सकते हैं।

लेकिन यदि आप इस तरह से इस फ्यूचर बिजनेस को शुरू नहीं करना चाहते हैं, तो आप एक ट्रेडर के तौर पर भी इसे शुरू कर सकते हैं।  इसके लिए आपके पास शेयर मार्किट की गहरी जानकारी होना आवश्यक है। क्योंकि शेयर बाज़ार में निवेश जोखिमों के अधीन होता है, इसलिए अच्छे स्टॉक का विश्लेषण करने की क्षमता और मार्किट का रुझान समझने का अनुभव होना भी आवश्यक है।  

यह भी पढ़ें

error: Content is protected !!