खाद्य ट्रक व्यापार कैसे शुरू करें। Food Truck Business Plan in Hindi.

Food Truck Business से भले ही आप अभी तक अनभिज्ञ क्यों न हों, लेकिन सच्चाई यह है की बड़े बड़े महानगरों में इनका चलन बड़े जोरों शोरों से शुरू हो गया है । आपने सड़क के किनारों, स्थानीय बाज़ारों इत्यादि में होटल, रेस्तरां, ढाबे, भोजनालय इत्यादि देखे होंगे उन सभी को कोई दुकान इत्यादि किराये पर लेकर स्थापित किया गया होता है और उस होटल, रेस्तरां, ढाबे, भोजनालय इत्यादि को एक जगह से दूसरी जगह स्थानान्तरण नहीं कर सकता।

लेकिन शहरों में बढती जनसँख्या और जगह की कमी के चलते वर्तमान में खाद्य पदार्थ बेचने के लिए उद्यमियों द्वारा Food Truck Business शुरू किया जा रहा है। इसलिए आज हम इस व्यवसाय पर जानकारी देने का प्रयत्न कर रहे हैं वैसे देखा जाय तो खाद्य ट्रक खाना पकाने और उसे बेचने के लिए सुसज्जित किया हुआ एक बड़ा वाहन होता है जिसे लोगों की भोजन की मांग के अनुसार अलग अलग लोकेशन पर भी खड़ा किया जा सकता है।

कुछ आइसक्रीम ट्रक होते हैं जो विभिन्न प्रकार की आइसक्रीम घूम घूम कर बेचते हैं तो कुछ ऐसे Food Truck Business करने वाले भी उद्यमी होते हैं जो अपने घर से खाना तैयार करके लाते हैं और उसे इस वाहन के माध्यम से बेचते हैं इसके अलावा कुछ ट्रक में रसोई भी होती है और वे शुरुआत से भोजन को ट्रक में बनाते भी हैं और उसी के माध्यम से बेचते भी हैं। इस व्यवसाय को करने के लिए यह भी जरुरी नहीं है की फ़ूड ट्रक है तो उसे हर दिन या हर घंटे नई नई लोकेशन पर ही खड़ा करके खाना बेचना है बल्कि वह चाहे तो किसी एक लोकेशन पर खड़ा रहकर भी खाना बेच सकता है।

और जरुरत पड़ने पर उस वाहन को किसी अन्य लोकेशन पर भी ले जा सकता है। इसलिए यह जरुरी नहीं है की जब व्यक्ति किसी रेस्तरां या होटल में जाएगा तभी उसे अच्छा खाना खाने को मिलेगा बल्कि वर्तमान में Food Truck Business करने वाले उद्यमियों द्वारा अपने ग्राहकों को न सिर्फ साफ़ सफाई से खाना परोसा जा रहा है बल्कि उनकी पसंद के अनुसार स्वाद और वैरायटी भी मेन्टेन की जा रही है। यही कारण है की वर्तमान में खाद्य ट्रक व्यापार पोर्टेबल फूड बूथ और फूड कार्ट के साथ स्ट्रीट फ़ूड उद्योग की सबसे अग्रिम पंक्ति में खड़ा हुआ है और इससे लगभग प्रतिदिन 2.5 बिलियन लोग खाना खा रहे हैं।

Food truck Business plan hindi

खाद्य ट्रक बिजनेस क्या है (What is Food Truck Business):

जैसा की हम पहले भी बता चुके हैं की एक Food Truck या खाद्य ट्रक खाना पकाने और उसे बेचने के लिए सुसज्जित किया गया एक बड़ा सा वाहन है। चूँकि यह ट्रक से निर्मित होता है और ट्रक पर पहिये भी होते हैं इसलिए इसे पहियों से युक्त एक रेस्तरां भी कहा जा सकता है। हालांकि इनका आकार, प्रकार खाद्य आइटम के अनुसार अलग अलग हो सकता है।

जैसे एक आइसक्रीम बेचने का ट्रक खाद्य ट्रक की तुलना में छोटा हो सकता है। इसमें भी कई ट्रक जिनके मालिक अपने घरों से खाना तैयार करके इन्हें बेचते हैं तो कई उद्यमी खाना बनाने से लेकर बेचने का कार्य सभी कुछ ट्रक में ही करते हैं। इसलिए जब किसी उद्यमी द्वारा इनमें से किसी भी प्रकार का व्यवसाय शुरू किया जाता है तो उसके द्वारा किया जाने वाला यह बिजनेस Food Truck Business कहलाता है।

भारत में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग   

भारत में यदि खाद्य उद्योग की बात करें तो खाद्य उत्पादों में मूल्यवर्धन की विशेषता होने के कारण यह एक उच्च विकास के साथ उच्च लाभ प्रदान करने वाले क्षेत्र के तौर पर उभरा है और वह भी विशेष तौर पर खाद्य प्रसंस्करण उद्योग। खाद्य उद्योग को $ 80.9 बिलियन का आँका गया है और इसके 11% CAGR की दर से बढ़ने की उम्मीद जताई गई है देखा जाय तो यह देश के कुल स्टोरल फ़ूड मार्किट का 32% है और भारत सरकार भी खाद्य प्रसंस्करण उद्योग को प्रोत्साहित करने में सहायक रही है।

खाद्य उद्योग भारत में इतना बड़ा है की यह कुल सकल घरेलु उत्पाद में लगभग 14 प्रतिशत की हिस्सेदारी प्रदान करता है और भारत से होने वाले कुल निर्यात में 13% की हिस्सेदारी के अलावा कुल औद्योगिक निवेश में छह प्रतिशत का योगदान देता है। जहाँ तक भारतीय गौर्मेट फ़ूड मार्किट की बात है जिसमें Food Truck Business भी शामिल है का बाजार लगभग 1.3 बिलियन अमेरिकी डॉलर है। और एक आंकड़े के मुताबिक यह 20 % CAGR की दर से आगे बढ़ रहा है इसलिए अगले कुछ वर्षों में इसमें बड़ी वृद्धि होने की संभावना जताई जा रही है।

भारत में संगठित क्षेत्रों द्वारा किया जाने वाले खाद्य व्यवसाय का मूल्य लगभग $ 48 बिलियन आँका गया और इसमें से $ 15 बिलियन फ़ूड डिलीवरी का मूल्य आँका गया। ऑनलाइन फ़ूड डिलीवरी में प्रमुख खिलाड़ी फ़ूड पांडा, ज़ोमैटो, टाइनीऑव्ल और स्विगी जैसी कम्पनियां शीर्ष पर हैं। क्योंकि इनके साथ पार्टनरशिप करके छोटे- बड़े सभी प्रकार के फ़ूड विक्रेता का खाना लोगों के दरवाजों तक पहुँच रहा है। ऐसे में Food Truck Business करने वाले उद्यमी के लिए भी यह अवसर हो सकता है की वह इनके साथ पार्टनरशिप करके अपने खाने को अपने ग्राहकों के घरों तक भी पहुंचाए।

खाद्य ट्रक व्यापार कैसे शुरू करें? (How to Start Food Truck Business in India):    

खाद्य ट्रक यानिकी Food Truck Business शुरू करने के लिए उद्यमी को जिस चीज की सबसे पहले आवश्यकता होती है वह है भोजन के प्रति खुद की जानकारी यह जरुरी नहीं है की उद्यमी किसी होटल या रेस्तरां में कार्य किया हुआ ही व्यक्ति हो। बल्कि वे व्यक्ति जो अपने स्वयं के घर पर भी अच्छा खाना बना लेते हैं या फिर उनके घर का कोई सदस्य ऐसा खाना बना लेता है।

जिसकी तारीफ हर कोई करता है तो वह भी इस तरह का यह व्यवसाय शुरू कर सकता है। कहने का आशय यह है की इस तरह का यह व्यवसाय कोई भी शुरू कर सकता है बशर्ते उसे खाने के स्वाद इत्यादि की जानकारी हो। तो आइय्रे जानते हैं की कैसे कोई व्यक्ति खुद का यह बिजनेस शुरू कर सकता है ।

1. व्यापार की योजना तैयार करें (Prepare food truck Business Plan):

वैसे तो food Truck Business शुरू करना काफी आसान है लेकिन इसे शुरू करने से पहले उद्यमी को इसकी एक उचित योजना अवश्य बनानी चाहिए। इस योजना में निम्नलिखित बातों को स्पष्ट किया जाना अति आवश्यक होगा।

  • इसमें कोइ दो राय नहीं की उद्यमी को इस तरह का यह व्यापार शुरू करने के लिए एक वाहन की आवश्यकता होती है इसलिए उद्यमी को निर्णय लेना होगा की उसके Food Truck का आकार इत्यादि क्या रहने वाला है।
  • उद्यमी कोई पुराने वाहन को मॉडिफाई करके खाद्य ट्रक का स्वरूप देने वाला है या फिर किसी नए वाहन को मॉडिफाई करके यह काम करने वाला है यह बात भी स्पष्ट होनी चाहिए।
  • इसके अलावा खाद्य ट्रक में केवल खाना बेचा जायेगा या फिर उसी में पकाया भी जायेगा क्योंकि शुरूआती दौर में अक्सर देखा गया ही की लोग घर से खाना तैयार करके लाते हैं।
  • यद्यपि इसमें कोई दो राय नहीं की खाद्य ट्रक की लोकेशन उद्यमी द्वारा आवश्यकतानुसार बदली जा सकती है लेकिन इसके बावजूद भी उद्यमी को किसी टारगेट लोकेशन का चुनाव करना अत्यंत आवश्यक है।
  • कर्मचारियों के तौर पर उद्यमी खुद के पारिवारिक सदस्यों को उपयोग करेगा या फिर पेशेवर व्यक्तियों को नियुक्त करेगा यह बात भी स्पष्ट होनी चाहिए।  

2. वित्त का प्रबंध करें

जब व्यापार की योजना पूर्ण रूप से तैयार हो जाय तो उद्यमी उस योजना के अनुसार इस बात का अनुमान लगा पाने में सक्षम हो जायेगा की उसको Food Truck Business शुरू करने के लिए लगभग कितने पैसों की आवश्यकता होगी। इसलिए उद्यमी चाहे तो खुद की व्यक्तिगत बचत से, पारिवारिक या दोस्तों इत्यादि से अनौपचारिक ऋण लेकर या फिर बैंक इत्यादि वित्तीय संस्थानों से ऋण लेकर भी वित्त की व्यवस्था कर सकता है।

इसमें उद्यमी को शुरूआती दौर में सबसे अधिक जिस चीज पर खर्च करना होता है वह खाद्य ट्रक खरीदना और उसे मॉडिफाई करना ही है। यदि उद्यमी किसी पुराने वाहन को मॉडिफाई करके यह बिजनेस शुरू करता है तो उसे इस मद पर लगभग 5-7 लाख रूपये खर्च करने की आवश्यकता हो सकती है जबकि नए वाहन को खरीदने में आने वाला खर्चा इसे कई गुना तक बढ़ा देता है।

3. खाद्य ट्रक का प्रबंध करें (Arrange food truck for Business):

जैसा की हम पहले भी बता चुके हैं की Food Truck यानिकी खाद्य ट्रक का प्रबंध करना इस व्यवसाय को शुरू करने का एक प्रमुख मद है। यह ट्रक के आकार, डिजाईन, नए, पुराने इत्यादि बातों पर अंतरित होता है वैसे शुरूआती दौरे में उद्यमी को किसी पुराने वाहन को खरीदकर ही उसे फ़ूड ट्रक के तौर पर मॉडिफाई कराना लाभकारी हो सकता है ।

ध्यान रहे खाद्य ट्रक को मॉडिफाई करते समय उद्यमी को उसकी डेकोरेशन, डिजाईन इत्यादि पर खासा ध्यान देने की आवश्यकता होती है यहाँ तक की यदि उद्यमी ने मेनू और आइटम की कीमतें डीसाइड कर दी हों तो वे भी ट्रक के शीर्ष पर या बाहर से अच्छे, सुन्दर और विजिबल अक्षरों में लिखे होने चाहिए ताकि देखते ही ग्राहक के दिमाग से किन्तु, परन्तु सारे सवाल गायब हो जाएँ।

और वह आर्डर देकर खाना मंगाने को मजबूर हो जाये। वैसे देखा जाय तो इस तरह के व्यवसाय को शुरू करने के लिए किसी भी प्रकार के लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन की अनिवार्यता शायद ही होगी लेकिन यदि उद्यमी चाहे तो FSSAI License के लिए आवेदन कर सकता है इससे ग्राहकों में उसके व्यवसाय के प्रति विश्वास और सुरक्षा दोनों बढेंगी।

4. प्रक्रियाओं को स्पष्ट करें

अब उद्यमी द्वारा Food Truck Business शुरू करने के लिए खाद्य ट्रक तो तैयार कर लिया गया है लेकिन अब उसे प्रकियाओं को भी स्पष्ट करना होगा। ताकि जब भविष्य में कभी उसे अपने व्यवसाय के लिए और पेशेवरों को नियुक्त करना पड़े तो उन्हें ये प्रक्रियाएं आसानी से समझाई जा सकें और व्यवसाय पर किसी मौजूदा कर्मचारी के होने या न होने का भी कुछ ज्यादा असर न दिखाई दे।

इसमें उद्यमी को अपने ट्रक का अधिक से अधिक फ़ूड स्टोरेज क्षमता तय करनी होगी, ग्राहकों की अधिक से अधिक पहुँच कैसे हो यह भी तय करनी होगी, अधिक से अधिक कितने कर्मचारी उस खाद्य ट्रक के अन्दर कार्य कर सकते हैं यह भी तय करना होगा। आर्डर कैसे लिए जायेंगे ग्राहकों को खाना कैसे दिया जायेगा साफ़ सफाई का ध्यान कैसे रखा जायेगा।

फूड सेफ्टी अथॉरिटी के मानकों का अनुसरण कैसे किया जायेगा? पेमेंट के क्या क्या विकल्प ग्राहकों को दिए जायेंगे? और फीडबैक की क्या व्यवस्था होगी। Food Truck Business की सफलता के लिए इन सभी प्रक्रियाओं को स्पष्ट करना अति आवश्यक है। ताकि इस व्यवसाय से जुड़े किसी भी व्यक्ति को कोई भी कंफ्यूजन शेष न हो ।

अन्य लेख भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *