ब्लीचिंग पाउडर निर्माण बिजनेस। Bleaching Powder Manufacturing Business.

Stable Bleaching Powder को (कैल्शियम हाइपोक्लोराइट) भी कहा जाता है यह व्यापक तौर पर इस्तेमाल में लाया जाने वाला एक रसायन है । यह एक ऐसा रासयाँ है जो पानी में विघटित होता है और लागू होने पर क्लोरीन जारी करता है। इसका यही गुण इसे मजबूत ऑक्सीकरण, विरंजन और कीटाणुशोधन एजेंट बनाता है । Bleaching Powder की यदि हम बात करें तो यह मूल रूप से एक ब्लीचिंग एजेंट है।

इसलिए इसके एक नहीं बल्कि अनेकों औदयोगिक इस्तेमाल हैं इसका इस्तेमाल प्रमुख तौर पर टेक्सटाइल मिल्स, हैंड लूम्स और पावर लूम्स, होजरी, लॉन्ड्री, पेपर, सोप और सिलिकेट मैन्युफैक्चरिंग इत्यादि में एक विरंजन एजेंट के तौर पर किया जाता है। इसके अलावा कार्बनिक संश्लेषण में ऑक्सीकरण एजेंट के रूप में भी इसका इस्तेमाल होते आया है। लेकिन ध्यान रहे यह रसायन औषधीय इस्तेमाल के लिए नहीं होता है।

साधारण शब्दों में Bleaching Powder को क्लोरीनयुक्त चुने के रूप में भी जाना जाता है और यह पानी में आसानी से घुलनशील होने वाला एक पीले या सफ़ेद रंग का पाउडर होता है। ब्लीचिंग पाउडर में क्लोरीन की सामग्री 35 – 40% तक हो सकती है।

यदि चूने को 30-40®C तापमान पर रखा जाय तो ब्लीचिंग पाउडर से 40% तक क्लोरीन प्राप्त किया जा सकता है इस इस्तेमाल प्रमुख तौर पर एक विरंजक और कीटाणुनाशक के तौर पर किया जाता है। इसलिए आज हम हमारे इस लेख के माध्यम से इसी विषय पर जानकारी देने का प्रयत्न कर रहे हैं।

Bleaching powder manufacturing

अनुप्रयोग एवं बाजरिक संभाव्यता

Bleaching Powder के अनुप्रयोग यानिकी इस्तेमाल की यदि हम बात करें तो इसका प्रमुख उपयोग कागज उद्योग, कपड़ा उद्योग और तेल उद्योग में किया जाता है। लेकिन इन सबके अलावा ऐसा कोई भी उद्योग जहाँ विरंजन की आवश्यकता होती है वहां भी इसका इस्तेमाल किया जाता है।

इसके अलावा खाद्य प्रसंस्करण, पेय और चीनी उद्योगों में भी इसका इस्तेमाल कीटाणुशोधन एवं दुर्गन्ध दूर करने के लिए किया जाता है। इसके अलावा कैल्शियम हाइपोक्लोराइट का इस्तेमाल क्लोरीन यौगिक के तौर पर बड़े पैमाने पर किया जाता है, क्योंकि क्लोरीन का यौगिक कई सूक्ष्मजीवों जो पर्यावरण में मौजूद होते  हैं – जैसे कि शैवाल, बैक्टीरिया, कवक, कीचड़ और अन्य हानिकारक और आपत्तिजनक सूक्ष्मजीवों के खिलाफ अत्यधिक प्रभावी होता है।

यही कारण है की कैल्शियम हाइपोक्लोराइट पूरे विश्व में सबसे अधिक एवं व्यापक तौर पर इस्तेमाल होने वाला विरंजन, स्वच्छता और कीटाणुनाशक एजेंट में से एक है। और यह Bleaching Powder का एक अभिन्न अंग होता है जिसमें कैल्शियम क्लोराइड और स्लेक्ड चूना भी शामिल होता है।

ब्लीचिंग पाउडर खरीदने वाले प्रमुख उपभोक्ताओं की बात करें तो इनमें पेपर उद्योग, कपड़ा उद्योग, तेल स्थापना, तो शामिल हैं ही, बल्कि  उर्वरक इकाइयां, चाय बागान, पीएचई, रेलवे, अस्पताल और नगर निगम भी इसमें शामिल हैं। एक अनुमान के मुताबिक पूरे उत्तर पूर्वी क्षेत्र में लगभग 3500 मीट्रिक टन प्रति वर्ष ब्लीचिंग पाउडर की आवश्यकता है।

इसके बहुआयामी इस्तेमाल को देखते हुए और विभिन्न औदयोगिक इकाइयों द्वारा इसकी आवश्यकता को देखते हुए कहा जा सकता है की ब्लीचिंग पाउडर की मांग हमेशा विद्यमान रहने वालों में से है। इसलिए जिस भी वस्तु या सेवा की मांग बाज़ारों में व्यापत हो उसका निर्माण करना एक लाभकारी बिजनेस के तौर पर सामने आ सकता है।

आवश्यक लाइसेंस एवं पंजीकरण

इस तरह का व्यवसाय शुरू करने के लिए उद्यमी चाहे तो अपने व्यवसाय को प्रोप्राइटरशिप के तहत रजिस्टर करवा सकता है। और बिल एवं इनवॉइस जनरेट करने के लिए जीएसटी रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता होती है। हो सकता है की Bleaching Powder Manufacturing Business शुरू कर रहे उद्यमी को स्थानीय प्राधिकरण से भी ट्रेड या फैक्ट्री लाइसेंस की आवश्यकता हो।

लेकिन चूँकि सरकारी विभागों द्वारा भी ब्लीचिंग पाउडर का इस्तेमाल बहुतायत तौर पर किया जाता है इसलिए यदि उद्यमी चाहता है की एमएसएमई को मिलने वाले फायदों का फायदा उसके व्यवसाय को भी मिले, तो उद्यमी को उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन और एमएसएमई डाटा बैंक रजिस्ट्रेशन की भी आवश्यकता हो सकती है। इसके अलावा यदि उद्यमी स्वयं का ब्रांड स्थापित करके अपना उत्पाद बेचना चाह रहा है तो उसे ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन की भी आवश्यकता हो सकती है।      

कच्चा माल एवं मैनपावर की आवश्यकता

Bleaching Powder Manufacturing की यदि हम बात करें तो इसका निर्माण करने के लिए उद्यमी को मुख्य तौर पर दो तरह के कच्चे माल उच्च ग्रेड चूने और क्लोरीन की आवश्यकता होती है। जहाँ तक क्लोरीन की बात है ब्राइन के इलेक्ट्रोलिसिस के दौरान यह एक सह उत्पाद के तौर पर उपलब्ध होता है । ध्यान रहे जब उच्च ग्रेड चूने को क्लोरीन के साथ संसाधित किया जाता है तो यह हाइड्रोजन से मुक्त होना चाहिए ताकि प्रतिक्रिया कक्ष में किसी प्रकार का कोई विस्फोट न हो।

इस प्रक्रिया में चूने की गुणवत्ता महत्वपूर्ण योगदान अदा करती है। जहाँ तक Bleaching Powder Manufacturing बिजनेस शुरू करने के लिए आवश्यक मैनपावर या कर्मचारियों की बात है उद्यमी को मशीन संचालित करने के लिए कुशल मशीन ऑपरेटर की आवश्यकता होती है। ब्लीचिंग पाउडर का उचित गुणवत्ता के साथ उत्पादन हो यह सुनिश्चित करने के लिए और क्वालिटी चेक करने के लिए क्वालिटी इंजिनियर की आवश्यकता होती है।  

एक कार्य स्टेशन से दुसरे कार्य स्टेशन में सामग्री स्थान्तरित करने के लिए हेल्पर की भी आवश्यकता होती है, ऑफिस का कार्य करने के लिए कुशल एवं शिक्षित कर्मचारी की भी आव्श्य्लता होती है। इस प्रकार से देखा जाय तो उद्यमी को 7-8 कर्मचारी नियुक्त करने की आवश्यकता हो सकती है।

आवश्यक मशीनरी एवं उपकरण

Bleaching Powder Manufacturing बिजनेस शुरू करने में इस्तेमाल में लायी जाने वाली कुछ प्रमुख मशीनरी एवं उपकरणों की लिस्ट इस प्रकार से है।

  • एगीटेटर, सेपरेटर के साथ क्लोरीनेटर
  • रिडक्शन गियर बॉक्स
  • स्लिप्रिंग मोटर
  • चैन और पुल्ली ब्लाक
  • लाइम स्टोरेज टैंक
  • मोटर के साथ वैक्यूम पम्प

उपर्युक्त बताई गई मशीनरी की कीमत 7-10 लाख के बीच कुछ भी हो सकती है और इन्हें चलाने के लिए 20Hp बिजली की आवश्यकता हो सकती है । इसलिए इनकी खरीदारी से पहले एक अच्छे मशीन सप्लायर का चुनाव बेहद जरुरी हो जाता है इसके लिए उद्यमी चाहे तो विभिन्न मशीनरी सप्लायर से कोटेशन मंगाकर फिर उनका तुलनात्मक विश्लेषण करके अच्छे सप्लायर का चुनाव कर सकता है।

ब्लीचिंग पाउडर निर्माण प्रक्रिया :

Bleaching Powder निर्माण प्रक्रिया की यदि हम बात करें तो यह हसन क्लेवर प्रोसेस के अनुसार है अर्थात इसका निर्माण हसन क्लेवर प्रोसेस के अनुसार किया जाता है। इस प्रक्रिया में कास्ट आयरन सिलिंडर में विभिन्न सीरिज में हाइड्रेटेड चूने और क्लोरीन को फेड काउंटर में एक दुसरे में समाहित किया जाता है। इस प्रक्रिया में सिलिंडरों को घूर्णन ब्लेड के साथ संचालित किया जाता है और इन्हें क्षैतिज रूप से रखा जाता है।

घूर्णन ब्लेड सामग्री को मिश्रित करने के लिए प्रयत्नशील रहती हैं और ये अन्दर द्रव्यमान के वाहक के तौर पर कार्य करती हैं। हाइड्रेटेड चूने को सबसे टॉप मोस्ट सिलिंडर में चार्ज किया जाता है जबकि क्लोरीन को बॉटम मोस्ट सिलिंडर में चार्ज किया जाता है और यहाँ घूर्णन ब्लेड की मदद से क्लोरीन और चूने का अंतरंग मिश्रण तैयार किया जाता है ।

इसके बाद Bleaching Powder Manufacturing Process में क्लोरीनयुक्त चुने को बॉटम सिलिंडर से छुट्टी दे दी जाती है और बिना किसी प्रतिक्रिया के क्लोरीन को टॉप सिलिंडर से प्राप्त कर लिया जाता है और फिर फ्रेश क्लोरीन के साथ पुनर्नवीनीकरण कर दिया जाता है। डिस्चार्ज ब्लीचिंग पाउडर को लोहे के ड्रम या लकड़ी के बैरल में संग्रहित किया जाता है। इसे अधिक समय तक स्टोर किया जा सके इसके लिए इसे त्वरित चूने के साथ मिलाया जाता है। 

अन्य भी पढ़ें

बैटरी का पानी बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें?

इलेक्ट्रिक आयरन विनिर्माण बिजनेस कैसे शुरू करें?

1 thought on “ब्लीचिंग पाउडर निर्माण बिजनेस। Bleaching Powder Manufacturing Business.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *